पानी की आड़ में क्रूड ऑयल का गोरखधंधा, कर्मचारियों की मिलीभगत का खुलासा

bhawani singh

Publish: Jul, 15 2017 11:07:00 (IST)

Barmer, Rajasthan, India
पानी की आड़ में क्रूड ऑयल का गोरखधंधा, कर्मचारियों की मिलीभगत का खुलासा

- टैंकर के पांच कम्पाउंड में से तीन में पानी, दो में कू्रड ऑयल- केयर्न की सुरक्षा व्यवस्था पर सवाल, पत्रिका ने पहले दिन कर दिया था खुलासा

एमपीटी नागाणा में पानी की आड़ में कर्मचारियों व अधिकारियों की मिलीभगत से कू्रड ऑयल के नाम गोरखधंधे का खुलासा हुआ है। ऐसे में केयर्न के अधिकारियों व सुरक्षाकर्मियों की कार्यशैली पर भी कई तरह के सवाल खड़े हुए हैं। पुलिस ने शिकायत पर कार्रवाई करते हुए कू्रड ऑयल के साथ तीन कम्पाउंड में पानी से भरे टैंकर को जब्त कर दो आरोपितों को गिरफ्तार किया। 




चोरी हुआ क्रूड ऑयल कहां जा रहा है, पुलिस इसका खुलासा नहीं कर पाई। एसपी डॉ. गगनदीप सिंगला ने कहा कि कम्पनी के अधिकारी व कर्मचारी मिलकर इस तरह क्रूड ऑयल चोरी करवा रहे हैं। इसकी जांच चल रही है। कू्रड ऑयल की सप्लाई के लिए चोरों ने कोई जुगाड़ बना रखा है। जल्द ही पूरे मामले का खुलासा कर दिया जाएगा।




यूं हुई कार्रवाई

नागाणा एमपीटी क्षेत्र के बायतु के सरस्वती फील्ड के वेल पेड़ नम्बर 1 कोसलू से गुरुवार को टैंकर चालक ने कू्रड ऑयल के साथ पानी भरकर सिर्फ कू्रड ऑयल के कागज तैयार करवाए। चालक सताराम पुत्र रूपाराम निवासी रतासर व हेल्पर धर्माराम पुत्र प्रहलादराम निवासी लापला नागाणा एमपीटी पहुंचे। यह टैंकर मंगला ट्रमिनल में खाली होना था। लेकिन इससे पहले पुलिस ने कार्रवाई करते हुए टैंकर को जब्त कर आरोपितों को हिरासत में ले लिया। टैंकर की जांच में तीन कम्पाउंड में प्रोडिसुड वाटर व दो कम्पाउंड में कू्रड ऑयल मिला। केर्यन ऑयल एण्ड गैस एमपीटी नागाणा की लीगल टीम के गणपतसिंह चौहान की रिपोर्ट पर पुलिस ने मामला दर्ज किया।




कहां जा रहा है कू्रड ऑयल?

एमपीटी नागाणा के गुड़ामालानी, भाडखा, बायतु सहित कई क्षेत्रों में कुएं हैं। जहां से प्रतिदिन क्रूड ऑयल का टैकरों से परिवहन होता है। यह परिवहन करीब ढाई साल से हो रहा है। अब पानी की आड़ में कू्रड ऑयल चोरी होने की घटना सामने आई है। ऐसे में बड़ा सवाल यह है कि चोरी हुआ कू्रड ऑयल कहां जा रहा है? इसका किसी के पास जबाव नहीं है। लेकिन प्रथम दृष्टया सामने आ रहा है कि क्रूड ऑयल का चोरों ने कोई जुगाड़ बना रखा है। इसके चलते बड़े स्तर पर कू्रड ऑयल चोरी हो रहा है। केरोसिन में मिलावट या खेत की मोटर में इसे काम लेने की चर्चाएं भी हैं।


टैंकर में पानी या क्रूड, उलझी बाड़मेर पुलिस



जीपीएस सिस्टम पर सवाल?

नागाणा एमपीटी क्षेत्र में लगे सभी वाहनों पर जीपीएस सिस्टम लगे हुए हैं। जिसमें दूरी तय कर रखी होती है। ऐसे में कुएं से भरने के बाद पूरी निगरानी के साथ सीलबंद टैंकर मंगला ट्रमिनल पॉइंट पहुंचता है। लोडिंग पॉइंट पर अलग-अलग कर्मचारी ड्यूटी करते हैं। यहां से मंगला ट्रमिनल तक तीन-चार बार गेट पास बनाए जाते हैं। लेकिन क्रूड ऑयल की चोरी में मिलीभगती सामने आ रही है।




यूं देते हैं अंजाम

सभी की मिलीभगत के चलते पानी की आड़ में टैंकर के कुछ हिस्से में कू्रड ऑयल भर लिया जाता है।




कई बार शिकायत

पिछले ढाई साल से एमपीटी नागाणा क्षेत्र में 50 से अधिक टैंकरों से कू्रड ऑयल का परिवहन हो रहा है। इसमें चोरी की आशंका के चलते कम्पनी के उच्च अधिकारी कई बार शिकायत भी कर चुके हैं।




यह है प्रोडिसुड वाटर

कू्रड ऑयल वेल (तेल कुएं) जहां खोदे गए हैं वहां कम गहराई के कुओं से प्रोडिसुड वाटर निकल रहा है। जिसका परिवहन भी टैंकरों से किया जा रहा है। प्रोडिसुड वाटर से आरओ प्लांट के जरिए मीठा पानी बनाया जाता है।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned