पंचायत सहायकों को आज ही मिल सकती है नियुक्ति

Barmer, Rajasthan, India
पंचायत सहायकों को आज ही मिल सकती है नियुक्ति

फेक्ट फाईल : 489 ग्राम पंचायतें, 03 प्रत्येक ग्राम पंचायत में लगेंगे, 1467 जिले में लगेंगे पंचायत सहायक

पंचायत सहायकों को गुरुवार से ही नियुक्ति मिल सकती है। जिला शिक्षा अधिकारी प्रारंभिक शिक्षा ने देर रात तक सभी बीईईओ ( ब्लाक प्रारंभिक शिक्षा अधिकारी )को चयन प्रक्रिया के लिफाफे दे दिए है। 

आगे इनको पीईईओ (पंचायत शिक्षा अधिकरी )को सौंंपा जाएगा। ग्रामसेवक और पीईईओ नियुक्ति की प्रक्रिया को पूर्ण कर इनकी संविदा सेवाएं प्रारंभ करेंगे।

 जिले की 489 ग्राम पंचायतों में 1467 विद्यालय सहायकों को लगाया जाएगा।

उच्च न्यायालय में विद्यालय सहायक भर्ती का रास्ता साफ होते ही राज्य सरकार की ओर से बुधवार को शासन उप सचिव प्रारंभिक शिक्षा ने सभी जिला शिक्षा अधिकारियों एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी जिला परिषद को आदेश जारी किया है 

कि इस संविदा भर्ती प्रक्रिया को तत्काल पूरा किया जाए। आदश्ेा मिलते ही जिला शिक्षा अधिकारी प्रारंभिक शिक्षा ने सभी कार्मिकों व अधिकारियेां को बुलाकर यहां बंद लिफाफो को बीईईओ को सुपुर्द कर आदेशित किया कि तत्काल प्रभाव से संविदा पर नियुक्ति दी जाए।

देर रात तक चला काम- जिला शिक्षा अधिकारी प्रारंभिक शिक्षा के कार्यालय में कार्य देर रात तक चला। जिला शिक्षा अधिकारी के नेतृत्व में सभी कार्मिकों ने सूचियों को अपडेट करने,

 इनकी जांच और इसको लेकर वांछित दस्तावेजों को खंगालते हुए अंतिम सूची बीईईओ, मुख्य कार्यकारी अधिकारी जिला परिषद और जिला कलक्टर को प्रेषित की।


आज भी दे सकते है नियुक्ति- रात तक बीईईओ को सारी सूचियां सौंप दी गई है। पीईईओ और ग्रामसेवक आज ही नियुक्ति दे सकते है। 

संविदा पर होने वाली यह नियुक्ति होने से विभाग को काफी सहूलियत होगी। - प्रेमचंद सांखला, जिला शिक्षा अधिकारी प्रांरभिक शिक्षा

संघर्ष की जीत हुई है- विद्यार्थी मित्रों के लंबी लड़ाई लड़ी। इसके लिए राज्य सरकार को यथास्थिति से अवगत करवाया। 

अब पुन: नियुक्ति मिल रही है। जिले की 1567 परिवारों को इससे लाभ मिलेगा। नियुक्ति शीघ्र देने के लिए प्रयास किए जाएंगे।- सांवलसिंह राठौड़, प्रदेश उपाध्यक्ष विद्यार्थी मित्र शिक्षक संघ

यह है विशेष

अभी लगेंगे संविदा पर-

इनमें से अधिकांश विद्यार्थी मित्र है जो विद्यालयों में वर्ष 2008 में नियुक्त हुए थ्थे। इनको 2014 में हटा दिया गया था। 

इसके बाद इन्होंने पुन: नियुक्ति के लिए संघर्ष किया तो राज्य सरकार ने इसके लिए रास्ता निकालते हुए ग्राम पंचायत सहायक के पदों पर संविदा के पद निकाले। इसमें आवेदन कर दिए लेकिन मामला न्यायालय में चला गया।

 न्यायालय ने तीन दिन पहले इनकी नियुक्ति के लिए आदेश किए तो अब इनको संविदा पर नियुक्ति दी जाएगी, जो एक साल के लिए होगी। मानदेय छह हजार मासिक तय किया गया है।


विद्यार्थी मित्रों को ही लगाने की योजना-

हालांकि आदेश में कहीं स्पष्ट नहीं किया गया कि विद्यार्थी मित्रों को ही लगाया जाए लेकिन यह तय है कि विद्यार्थी मित्रों को ही लगाने की योजना है। 

विद्यार्थी मित्र वंचित भी रहेंगे तो यह पीईईओ की जिम्मेदारी में रहेगा कि यह कैसे हो गया? विद्यार्थी मित्र को वंचित रखने पर जिला शिक्षा अधिकारी को भी राज्य सरकार को जवाब देना होगा। 

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned