महापड़ाव में चली लाठी-भाटा जंग, 55 घायल, कलक्टर-एसपी ने भाग कर बचाई जान

Anushree Joshi

Publish: Jul, 15 2017 08:47:00 (IST)

Rajasthan Patrika Bikaner Office, Dagon Ka Mohalla, Bikaner, Rajasthan, India
महापड़ाव में चली लाठी-भाटा जंग, 55 घायल, कलक्टर-एसपी ने भाग कर बचाई जान

सिंचाई पानी की मांग को लेकर किसानों का आंदोलन, 38 के खिलाफ नामजद मामला, 29 किसान गिरफ्तार

सिंचाई विभाग की ओर से क्षेत्र में कंवरसेन लिफ्ट नहर के 60 मोघे तोडऩे के विरोध में लूणकरनसर में किसानों के महापड़ाव ने शुक्रवार को उग्र रूप ले लिया। किसान पहापड़ाव स्थल पर हजारों पशु लेकर पहुंचे। पुलिस ने उन्हें रोकने का प्रयास किया तो पुलिसकर्मियों और प्रदर्शनकारियों में झड़प हो गई। पुलिस ने भीड़ को तितर-बितर करने के लिए हल्का बल प्रयोग किया। 



इससे प्रदर्शनकारी किसान आक्रोशित हो गए और पुलिस व प्रदर्शनकारियों में  लाठी-भाटा जंग शुरू हो गई। प्रदर्शनकारियों ने वाहनों में भी तोडफ़ोड़ की। बाद में पुलिस ने आंसू गैस के गोले छोड़कर स्थिति पर नियंत्रण किया। लाठी-भाटा जंग में 30 पुलिसकर्मियों सहित 55 लोग घायल हो गए। 


read : सिंचाई पानी को लेकर किसानों का पड़ाव जारी, हजारों की तादाद में पशु लेकर पहुंचे किसान


लूणकरणसर सीआई श्रवणदास संत की ओर से राजकार्य में बाधा डालने और जानलेवा हमला करने के आरोप में नामजद 38 लोगों सहित 300-400 अन्य के खिलाफ मामला दर्ज किया। देर रात तक 29 को गिरफ्तार कर लिया गया। भारतीय किसान सभा के तत्वावधान में लूणकरणसर में किसान अपनी मांगों को लेकर प्रदेश समिति सदस्य लालचंद भादू की अगुवाई में 11 दिनों से महापड़ाव पर बैठे हैं। 



किसान शुक्रवार को पशुओं को लेकर जा रहे थे तो पुलिस ने रोझा रोड की पुलिया पर उन्हें रोकने का प्रयास किया। इस पर विवादबढ़ गया और पुलिस व प्रदर्शनकारी किसानों में हाथापाई हो गई।  इससे आक्रोशित किसानों ने पुलिस पर पथराव कर दिया। बाद मे पुलिस ने लाठीचार्ज व आंसू गैस के गोले छोड़कर भीड़ को खदेड़ दिया, लेकिन प्रदर्शनकारी फिर आ जुटे।    



किसान भी चोटिल

भीड़ के पथराव से पुलिसकर्मियों सहित कुछ किसान भी चोटिल हुए हैं। कुछ प्रदर्शनकारियों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। अब स्थिति नियंत्रण में है।

बिपिन कुमार पांडे, आईजी बीकानेर रेंज

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned