जिंदा बच्चे को मृत बताने पर अस्पताल में छोड़ गए, वापस मिला तो खिल उठे चेहरे

Rajasthan Patrika Bikaner Office, Dagon Ka Mohalla, Bikaner, Rajasthan, India
जिंदा बच्चे को मृत बताने पर अस्पताल में छोड़ गए, वापस मिला तो खिल उठे चेहरे

किसी सिरफिरे की करतूत से आफत, पांच दिन बाद मिले माता-पिता, पीबीएम अस्पताल की नर्सरी में भर्ती था नवजात,

पीबीएम अस्पताल में आठ दिन पहले एक मजदूर परिवार की महिला का प्रसव हुआ था। उसने लड़के को जन्म दिया, लेकिन बेहद कमजोर होने से नवजात को नर्सरी में भर्ती कर दिया गया। कुछ देर बाद किसी ने बच्चे के माता-पिता को कह दिया कि बच्चे की मौत हो गई है। 



किसी सिरफिरे की इस हरकत के बाद माता-पिता बच्चे को वहीं छोड़कर घर चले गए, जबकि बच्चा जिंदा था। मामला पुलिस के पास पहुंचा तो परिवार का पता लगाया गया और शुक्रवार को बच्चा उन्हें सुपुर्द किया गया। जिस बच्चे की मौत पर परिवार गमगीन था, उसे जिंदा पाकर माता-पिता सहित सभी के चेहरे खिल उठे।



नवजात के पिता शौकत अली यहां ख्वाजा कॉलोनी में रहते हैं। पुलिसकर्मियों ने उन्हें बच्चा जिंदा होने की जानकारी दी तो वे पत्नी के साथ तुरंत पीबीएम अस्पताल पहुंच गए। बच्चे को जिंदा पाकर शौकत और उसकी पत्नी मदीना की आंखों में खुशी से आंसू छलक आए।



यह है मामला



शौकत की पत्नी मदीना ने 11 मई को पीबीएम के जनाना अस्पताल में पुत्र को जन्म दिया। दोनों गरीब और अशिक्षित हैं। इसका असर बच्चे पर दिखा। बेहद कमजोर होने से बच्चे को नर्सरी में रखा गया। नर्सरी में माता-पिता को बच्चे के पास नहीं रहने देते, एेसे में वह बाहर बैठे रहे। तीन दिन बाद 14 मई को किसी सिरफिरे ने शौकत और मदीना को कह दिया कि उनके बच्चे की मौत हो गई। एेसे में दोनों बिलखते हुए अपने घर चले गए।



पता गलत फिर भी ढूंढे परिजन



बच्चे के माता-पिता के नहीं मिलने पर 14 मई को पीबीएम अस्पताल प्रबंधन ने पीबीएम पुलिस चौकी में सूचना दी। इन चार दिनों में नर्सरी स्टाफ की देखभाल की। पुलिस ने भर्ती टिकट पर लिखे शौकत के पते मोतीगढ़ (छत्तरगढ़) पर पता किया।



 ग्रामीणों ने पुलिस को बताया कि यह परिवार दस साल पहले गांव छोड़कर बीकानेर मजदूरी करने चला गया था। इसके बाद पुलिस चौकी प्रभारी शिव शंकर और सिपाही कन्हैया लाल ने बीकानेर में इस परिवार की तलाश शुरू की। आखिरकार तीन दिन बाद परिवार का पता चल गया।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned