जिला पुलिस की बड़ी सफलता, अवैध हथियारों के साथ पकड़े छह

Anushree Joshi

Publish: Jun, 19 2017 09:12:00 (IST)

Rajasthan Patrika Bikaner Office, Dagon Ka Mohalla, Bikaner, Rajasthan, India
जिला पुलिस की बड़ी सफलता, अवैध हथियारों के साथ पकड़े छह

नयाशहर पुलिस ने छह आरोपितों को गिरफ्तार कर उनके पास छह पिस्तौल-रिवॉल्वर बरामद की हैं।

शहर में अवैध हथियार तस्करी मामले में जिला पुलिस को बड़ी सफलता मिली है। नयाशहर पुलिस ने छह आरोपितों को गिरफ्तार कर उनके पास छह पिस्तौल-रिवॉल्वर बरामद की हैं। आरोपितों से हथियारों की खरीद-फरोख्त के बारे में पुलिस पूछताछ कर रही है।



  पुलिस अधीक्षक सवाईसिंह गोदारा ने रविवार को पत्रकारों को बताया कि जिले में अवैध रूप से हथियारों की खरीद-फरोख्त की जानकारी मिलने पर स्करों को रंगे हाथ पकडऩे के लिए पुलिस निगरानी रखे हुए थी। सीओ सिटी किरण गोदारा के निर्देशन में सीआई नरेन्दू पूनिया और सीआई बहादुरसिंह के नेतृत्व में दो टीमें बनाई गई।




 दो दिन बाद पुलिस टीम को सफलता मिली। पुलिस ने हनुमान हत्था निवासी भूपेन्द्र उर्फ भूपसा राजपूत से 32 बोर की अवैध पिस्तौल, नगर निगम पीछे निवासी विक्रमसिंह उर्फ विक्की रावत से 32 बोर पिस्तौल, रानीबाजार निवासी भैंरूसिंह उर्फ रूपेन्द्रसिंह से एक रिवॉल्वर, 



रामपुरा बस्ती निवासी दिनेश बिश्नोई से देशी रिवॉल्वर, बसंत चौधरी उर्फ सोनू से देशी पिस्तौल एवं शुभम पारीक से एक पिस्तौल बरामद की गई। पुलिस इन छहों आरोपितों को दबिश देकर अलग-अलग जगह से गिरफ्तार किया। 


read : अगस्त तक शहर में लग जाएंगे सीसीटीवी कैमरे



इनमें चार आरोपितों का आपराधिक रिकॉर्ड है, जबकि बसंत व शुभम इनके झांसे में आ गए थे। भूपेन्द्र के खिलाफ फायरिंग के कई मामले दर्ज हैं। इन्हें कारतूस नहीं मिले, अन्यथा शहर में कोई वारदात करते। पुलिस ने इन्हें वारदात करने से पहले ही दबोच लिया।



हिस्ट्रीशीटर भूपसा की तलाश  

हिस्ट्रीशीटर भूपेन्द्रसिंह उर्फ भूपसा शहर में फायरिंग कर लोगों में दहशत फैला रहा था। उसने पारीक चौक में फायरिंग की थी। उसके विरुद्ध पूर्व में पुलिस पासा एक्ट में कार्रवाई कर चुकी है। पुलिस कई दिनों से पुलिस भूपसा की तलाश में थी।



आठ-दस हजार में बेचते थे हथियार

सीआई बहादुरसिंह ने बताया कि भूपेन्द्रसिंह व भैंरूसिंह लोगों को आए दिन डरा-धमका कर रुपए वसूलते थे। ये अवैध हथियार लाकर आठ-दस हजार रुपए में बेच देते थे। इन्होंने हथियार कहां से और क्यों खरीदे, इस बारे में पूछताछ की जा रही है। 

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned