एक करोड़ बैंक खातों का डेटा लीक, 20 पैसे प्रति कस्टमर के हिसाब से बेचा

Business
एक करोड़ बैंक खातों का डेटा लीक, 20 पैसे प्रति कस्टमर के हिसाब से बेचा

देश के एक करोड़ लोगों के बैंक खातों की जानकारी 'ऑन सेल' हैं। बैंक अकाउंट्स से जुड़ी सभी जानकारी सेल वाले रेट से भी सस्ते में उपलब्ध है।

देश के एक करोड़ लोगों के बैंक खातों की जानकारी 'ऑन सेल' हैं। बैंक अकाउंट्स से जुड़ी सभी जानकारी सेल वाले रेट से भी सस्ते में उपलब्ध है। पुलिस जांच में पता चला है कि 10 या 20 पैसे में उपभोक्ता के बैंक खाते से जुड़ी जानकारियां बेची जा रही हैं।



दिल्ली के ग्रेटर कैलाश में रहने वाली 80 साल की एक महिला के केस की जांच करते हुए पुलिस को यह जानकारी मिली है। महिला के क्रेडिट कार्ड से 1.46 लाख रुपए उड़ा लिए गए थे। इसी केस की जांच करते हुए पुलिस ने बैंक अकाउंट्स की जानकारी बेचने वाले मॉड्यूल का पर्दाफाश किया। पुलिस को पता चला कि इस मॉड्यूल में बैंक में काम करने वालों और कॉल सेंटर्स से जानकारी निकलवाई जाती थी और फिर उसे बेच दिया जाता था।



दक्षिण-पूर्वी दिल्ली के डीसीपी ने दावा किया कि मॉड्यूल के मास्टरमाइंड को गिरफ्तार करने के बाद पुलिस ने एक करोड़ लोगों के बैंक अकाउंट्स की जानकारी रिकवर की। गिरफ्तार किया गए पूरन गुप्ता ने बताया कि वह डेटा बल्क में बेचता था। 50 हजार लोगों का डेटा बेचने के वह 10 से 20 हजार लेता था। आरोपी ने डेटा मुंबई के एक सप्लायर से खरीदा था।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned