दलित विवाहिता का अपहरण, शराब पिलाकर सामुहिक दुष्कर्म

Rakesh gotam

Publish: Jul, 13 2017 10:34:00 (IST)

Churu, Rajasthan, India
दलित विवाहिता का अपहरण, शराब पिलाकर सामुहिक दुष्कर्म

दलित विवाहिता को चाकू लगाकर घर से अपहरण कर ले जाने तथा शराब पिलाकर सामूहिक दुष्कर्म करने के आरोप में पुलिस ने तीन आरोपितों एवं अपहरण के मामले में एक अन्य आरोपित के खिलाफ मामला दर्ज किया है।

दलित विवाहिता को चाकू लगाकर घर से अपहरण कर ले जाने तथा शराब पिलाकर सामूहिक दुष्कर्म करने के आरोप में पुलिस ने तीन आरोपितों एवं अपहरण के मामले में एक अन्य आरोपित के खिलाफ मामला दर्ज किया है।



दर्ज मामले के अनुसार वार्ड पांच निवासी 25 वर्षीय विवाहिता ने बताया कि आरोपित सादुलपुर निवासी प्रवीण कुमार उसके काका ससुर के घर आता-जाता था। कुछ समय पहले प्रवीण को मोबाइल रिचार्ज करवाने के लिए पैसे दिए थे। जिसके बाद वह फोन पर तंग-परेशान करने लगा।  उसका पति विदेश रहता है। दस जुलाई को वह बच्चों के साथ कमरे में सोई हुई थी। रात दो बजे आरोपित प्रवीण कमरे में घुसकर चाकू लगाकर साथ चलने की धमकी दी। विरोध किया तो बच्चों को जान से मारने की धमकी दी। वह आरोपित के साथ घर से बाहर आ गई। यहां पहले से सादुलपुर निवासी जयवीर खड़ा मोटरसाइकिल लिए खड़ा था। जयवीर उसे व प्रवीण को मोटरसाइकिल पर बैठाकर रेलवे स्टेशन लेकर पहुंचा। रेवाड़ी जाने वाली ट्रेन में प्रवीण के साथ बैठा दिया। रेवाड़ी में प्रवीण उसे एक होटल में ले गया।  जहां  विजय नायक व रामसिंह पहले से मौजूद थे। तीनों ने डरा-धमकाकर उसे शराब पिलाई और बारी-बारी से उससे दुष्कर्म किया।



प्रवीण ने सुबह फिर दुष्कर्म किया और सादुलपुर छोडऩे की बात कही। इसके बारे में बताने पर जान से मारने की भी धमकी दी। सादुलपुर पहुंचने के बाद आरोपित प्रवीण ने वापस डरा-धमकाकर एवं दुष्कर्म करने की नियत से उसे फोन किया। इससे परेशान होकर उसने परिजनों को घटना की जानकारी दी। गुरुवार सुबह पुलिस ने पीडि़ता का मेडिकल करवाकर  धारा 365, 376, 506 एवं 34 आईपीसी के अन्तर्गत मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। पीडि़ता दो बच्चों की मां है।



समाज के लोगों ने जताया आक्रोश, लगाए नारे: घटना के विरोध में वाल्मीकि समाज के लोगों ने बुधवार रात 11 बजे आरोपितों के खिलाफ मामला दर्ज करने की मांग को लेकर पुलिस थाने में रोष जताया। समाज के लोग थाने पहुंचे तो पुलिसकर्मियों ने कहा कि अधिकारी ड्यूटी पर सांवराद गए हुए हैं। सुबह मामला दर्ज कर लेेंगे। इस पर समाज के लोगों आक्रोशित हो गए और नारे लगाने लगे। बाद में एसआई धर्मपाल सिंह मौके पर पहुंचे तथा लोगों को समझाकर रात  एक बजे आरोपितों के खिलाफ मामला दर्ज किया। इसके बाद मामला शांत हुआ।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned