सुप्रीम कोर्ट का बड़ा फैसला, 2018 में उर्दू में भी आएगा NEET का पेपर

Education
सुप्रीम कोर्ट का बड़ा फैसला, 2018 में उर्दू में भी आएगा NEET का पेपर

सुप्रीम कोर्ट के सरकार और सीबीएसई को आदेश। सत्र 2018-19 से नीट के पेपर में उर्दू भाषा को किया जाएगा शामिल।

अगले साल नेशनल एलिजिबिलिटी कम एन्ट्रेंस टेस्ट (नीट) में उर्दू भाषा में भी पेपर आएगा। सुप्रीम कोर्ट ने स्टूडेंट्स इस्लामिक ऑर्गेनाइजेशन ऑफ इंडिया की याचिका पर सुनवाई के बाद सीबीएसई को यह आदेश जारी किए हैं। 

देश के मेडिकल और डेंटल संस्थानों में प्रवेश के लिए नीट कराया जाता है। इस बार यह परीक्षा 7 मई को कराई जाएगी। 

फिलहाल इसका पेपर हिंदी, अंग्रेजी, गुजराती, मराठी, ओडिशी, बंगाली, असमी, तेलुगू, तमिल और कन्नड़ भाषा में दिया जाता है।

सत्र 2018-19 में होगी शुरुआत

सीबीएसई ने कोर्ट में बताया कि इस बार 7 मई को नीट की परीक्षा होगी। इसके प्रवेश पत्र जल्द अपलोड होने हैं। ऐसे में मौजूदा सत्र में बदलाव होना मुश्किल है। 

इस पर जस्टिस दीपक मिश्र, ए. एम. खानविलकर और एम. एम. शंतानागौदर की बेंच ने सत्र 2018-19 से उर्दू भाषा में नीट का पेपर देने के आदेश दिए। 

इसके लिए केंद्र सरकार और मानव संसाधन विकास मंत्रालय को भी प्रक्रिया शुरू करने को कहा गया है।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned