'तारक मेहता का उल्टा चश्मा' के मशहूर हास्य लेखक 'तारक मेहता' का 87 की उम्र में निधन

guest user

Publish: Mar, 01 2017 12:31:00 (IST)

Entertainment
'तारक मेहता का उल्टा चश्मा' के मशहूर हास्य लेखक 'तारक मेहता' का 87 की उम्र में निधन

लोकप्रिय हास्य लेखक 'तारक मेहता' का 87 वर्ष की आयु में निधन हो गया है। तारक मेहता को लोग सबसे ज्यादा उनके गुजराती भाषा में लिखे गए एक लेख 'दुनिया ने ओंधा चश्मा' के लिए जानते है। आपको बता दें कि तारक मेहता को वर्ष 2015 में पद्मश्री अलंकरण से सम्मानित किया गया था।

बुधवार की सुबह बॉलीवुड के साथ-साथ टेलिविजन इंडस्ट्री के लिए भी बुरी खबर लेकर आई है। लोकप्रिय हास्य लेखक 'तारक मेहता' का 87 वर्ष की आयु में निधन हो गया है। तारक मेहता का निधन अहमदाबाद में हुआ। तारक मेहता के निधन की बात सुनकर उनके चाहने वाले लोगों को एक बड़ा सदमा लगा है।


READ: 'बाहुबली 2' के क्रेज को बढ़ाने के लिए रिलीज हुई बाहुबली की 'ग्राफिक नॉवेल',जानें क्या है इसमें खास

तारक मेहता को लोग सबसे ज्यादा उनके गुजराती भाषा में लिखे गए एक लेख 'दुनिया ने ओंधा चश्मा' के लिए जानते है। इसके अलावा वह कई प्रकार की हास्य कहानियों का गुजराती में अनुवाद कर चुके है।


READ: 8 साल बाद 'तारक मेहता का उल्टा चश्मा' छोड़ रहा है ये स्टार,जानें क्या है वजह


असित कुमार मोदी ने उनके लेख 'दुनिया का ओंधा चश्मा' की कहानी पर 2008 में एक हास्य कार्यक्रम 'तारक मेहता का उल्टा चश्मा' बनाया,जिसका प्रसारण सब टीवी पर किया जाता है। इस कार्यक्रम में तारक मेहता का किरदार लेखक और कॉमेडियन शैलेश लोधा निभा रहे है। तारक मेहता को आज लोग घर-घर में देखते है और इसकी लोकप्रियता दिन प्रतिदिन बढ़ती जा रही है। आज लोग तारक मेहता का उल्टा चश्मा देखने के लिए इतंजार करते है। 


READ: 'तारक मेहता का उल्टा चश्मा' को मिली एक आैर कामयाबी


तारक मेहता के निधन की जानकारी मिलने से उनके फैंस निराश हो गए है। उनके चाहने वालों ने श्रद्धाभाव से तारक मेहता को याद किया। आपको बता दें कि तारक मेहता को वर्ष 2015 में पद्मश्री अलंकरण से सम्मानित किया गया था। 

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned