कांकाणी हरिण शिकार : सलमान मामले में सरकार की अर्जी पर हुई बहस पूरी

Entertainment
कांकाणी हरिण शिकार : सलमान मामले में सरकार की अर्जी पर हुई बहस पूरी

अभिनेता सलमान खान सहित अन्य फिल्मी सितारों के खिलाफ 18 साल से विचाराधीन बहुचर्चित कांकाणी हरिण शिकार मामले में सरकार की ओर से पेश उस अर्जी पर बहस पूरी हो गई है ।

अभिनेता सलमान खान सहित अन्य फिल्मी सितारों के खिलाफ 18 साल से विचाराधीन बहुचर्चित कांकाणी हरिण शिकार मामले में सरकार की ओर से पेश उस अर्जी पर बहस पूरी हो गई है, जिसमें मृत हरिणों का पोस्टमार्टम करने वाले डॉक्टर के खिलाफ दर्ज मामले के दस्तावेज तलब करने की गुहार लगाई गई थी। 





मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट (जोधपुर जिला) दलपतसिंह राजपुरोहित ने सुनवाई के बाद फैसला दस मार्च तक के लिए सुरक्षित रखा है। अभियोजन पक्ष के अभियोजन अधिकारी भवानीसिंह भाटी ने हरिणों का पोस्टमार्टम करने वाले डॉ. नारायण प्रसाद नेपालिया के खिलाफ लूणी पुलिस थाने में दर्ज मामले के दस्तावेज तलब करने का अनुरोध किया। उनका कहना था कि सभी आरोपितों ने बयान मुल्जिम में डॉ. नेपालिया की पोस्टमार्टम रिपोर्ट को सही बताया है। 



 

Video बॉलीवुड की बिंदास एक्ट्रेसेज, 'रिफ्यूजी से किया कॅरियर की शुरुआत, और जल्द ही फिल्म 'वीरे दी वेडिंग में नज़र आएगी :करीना कपूर





डॉ. की यह है भूमिका

डॉ. नारायण प्रसाद नेपालिया खेजड़ली में पशु चिकित्सक थे। उन्होंने कृष्ण मृगों का पोस्टमार्टम किया था। जांच के दौरान वन विभाग के अधिकारियों ने यह पाया कि डॉ. नेपालिया ने आरोपित फिल्मी सितारों को बचाने के लिए मामले में शवों की परीक्षण रिपोर्ट जानबूझकर गलत तैयार की। 




रिपोर्ट की सत्यता पर संदेह होने पर  मृगों का पुन: परीक्षण पशु चिकित्सा अधिकारियों के बोर्ड से करवाया, जिसमें भारी विरोधाभास पाया गया।





PM नवाज शरीफ ने लिया बड़ा फैसला, 'रईस' और 'काबिल' जल्द होगी पाकिस्तान में रिलीज



















डॉ. की यह है भूमिका

डॉ. नारायण प्रसाद नेपालिया खेजड़ली में पशु चिकित्सक थे। उन्होंने कृष्ण मृगों का पोस्टमार्टम किया था। जांच के दौरान वन विभाग के अधिकारियों ने यह पाया कि डॉ. नेपालिया ने आरोपित फिल्मी सितारों को बचाने के लिए मामले में शवों की परीक्षण रिपोर्ट जानबूझकर गलत तैयार की। 

रिपोर्ट की सत्यता पर संदेह होने पर  मृगों का पुन: परीक्षण पशु चिकित्सा अधिकारियों के बोर्ड से करवाया, जिसमें भारी विरोधाभास पाया गया।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned