जमीन जायदाद किस काम की, जब नहीं होगा जीवन- संत हरदेवसिंह

Sonakshi Jain

Publish: Jun, 17 2017 04:04:00 (IST)

Hanumangarh, Rajasthan, India
जमीन जायदाद किस काम की, जब नहीं होगा जीवन- संत हरदेवसिंह

'हम आने वाली पीढिय़ों के सुखी जीवन की आस में जमीन-जायदाद बना रहे हैं, पर यदि वे लोग स्वस्थ ही नहीं रहे तो ये हमारे किस काम आएंगे। इस बात पर कभी आपने मंथन किया है।

ये विचार हरि निर्मल जल जन जागृति अभियान तहत शनिवार को गांव भगतपुरा में हुई सभा दौरान संत हरदेवसिंह ने कहे। उन्होंने कहा कि पंजाब की कई फैक्ट्रियों से रसायनयुक्त पानी के अलावा कई शहरों के सीवरेज का पानी भी हमारी नहरों में पहुंच रहा है। जिससे हम कैंसर जैसी गंभीर बीमारियों की चपेट में आ रहे हैं। यदि हम आज नहीं चेते तो शुद्ध पानी की बूंद को तरसेंगे। 


Video: श्रीगंगानगर में बारिश, मौसम ने खाया पलटा



इस मौके पर पूर्व एक्सईएन अरुण अरोड़ा, एडवोकेट प्रमोद डेलू, हरप्रीतसिंह आदि ने पंजाब की नहरों से लाए प्रदूषित पानी को दिखाते हुए नहरों में आ रहे प्रदूषित पानी से होने वाले नुकसान को बताते हुए सबसे जाग्रत होने तथा आंदोलन में सहयोग का आह्वान किया। गांव की ग्यारह सदस्यीय कमेटी गठित की गई जो हस्ताक्षर अभियान के अलावा जन जागृति का काम करेगी। 


गैंगस्टर सुसाइड मामला- परमजीत हस्पताल की जगह पहुंची जेल



संत ने जागृति रथ को भी रवाना किया जो गांव-गांव जाकर लोगों को जागृत करेगा। सभा में गुरसाहबसिंह, उज्जवला क्लब अध्यक्ष जुगल स्वामी, एडवोकेट पवनदीप, निर्मल गिल, प्रदीप सिद्धू, हरपाल नबंरदार सहित अनेक ग्रामीण मौजूद रहे। उप तहसील गांव ढाबां में रविवार को हनुमान मंदिर सामने जन जागरुकता सभा होगी।


नोहर क्षेत्र के किसानों ने राष्ट्रव्यापी आंदोलन में दिया समर्थन


Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned