कुदरत का करिश्मा! लौट आई मासूम की आंख की रोशनी

Health
कुदरत का करिश्मा! लौट आई मासूम की आंख की रोशनी

अब इसे कुदरत का करिश्मा कहो या बच्चे की किस्मत। होम्योपैथी डॉक्टर से उपचार लेने के 10 दिन बाद ही उसकी एक आंख की रोशनी पूरी तरह आ गई।

दोनों आंखों की रोशनी खो चुके 9 साल के मासूम के परिजनों ने उम्मीद खो दी थी कि उनका लाड़ला कभी किसी को देख पाएगा। एलोपैथी डॉक्टरों ने हाथ खड़े कर दिए। 



एेसे में निराश परिजनों ने होम्योपैथी डॉक्टर से उपचार  शुरू कराया। अब इसे कुदरत का करिश्मा कहो या बच्चे की किस्मत। उपचार लेने के 10 दिन बाद ही उसकी एक आंख की रोशनी पूरी तरह आ गई।



वजन ही नहीं घटाते ये योगासन, मांसपेशियां बना देंगे इतनी मजबूत कि हर बीमारी होगी बेअसर



9 साल का बच्चा लोकेंद्र के परिजनों को 5 साल पहले पता चला कि उनका बच्चा दांईं आंख से नहीं देख पा रहा है। उन्होंने जब डॉक्टरों को दिखाया तो पता चला कि बच्चे की आंख के ऊपर ट्यूमर है, जो ऑप्टिव नर्व को दबा रहा है। 



क्या आपको पता है शैंपू में चीनी मिलाने का ये फायदा



उपचार चला, लेकिन आंख की रोशनी नहीं आई। वर्ष 2013 में एक निजी अस्पताल में बच्चे के ट्यूमर का ऑपरेशन कराया। ऑपरेशन के बाद बच्चे की बांई आंख की रोशनी भी चली गई।


10 दिन में एक आंख की आई रोशनी

बच्चे के दादा दिलीप कुमार ने बताया कि टोंक रोड स्थित शिवा होम्यो हॉस्पिटल में बच्चे का इलाज चला। अब उपचार के 10 दिन बाद ही बच्चे की एक आंख की रोशनी लौट आई।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned