माओवादियों से संबंध रखने का मामलाः DU के प्रोफेसर और JNU के छात्र सहित 5 को उम्रकैद

National News
माओवादियों से संबंध रखने का मामलाः DU  के प्रोफेसर और JNU के छात्र सहित 5 को उम्रकैद

साईबाबा शारीरिक रूप से विकलांग हैं और कहीं आने-जाने को लेकर व्हीलचेयर के सहारे पर हैं। वो रिवोल्यूशनरी डेमोक्रेटिक फ्रंट नाम की भी एक संस्था से जुड़े हुए हैं।

महाराष्ट्र में गढचिरौली की एक अदालत ने माओवादियों से संबंध रखने के आरोप में दिल्ली यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर साईबाबा और जेएनयू के छात्र हेम मिश्रा, प्रशांत राही और अन्य तीन को दोषी करार दिया है।



अदालत ने सभी को उम्रकैद की सजा दी। बता दें कि अदालत ने इन सभी को UAPA एक्ट के तहत दोषी करार दिया है। 



आपको बता दें कि 2013 में खुफिया जानकारी के बाद हेममिश्रा तथा प्रशांत राही को गढचिरौली में गिरफ्तार किया गया था। पुलिस कहा था कि उनके पास से कुछ दस्तावेज तथा माइक्रो चिप बरामद हुए। इन दस्तावेज़ों और माइक्रो चिप के अध्ययन से पता चला कि यह दोनों अबूजमाड में वरिष्ठ माओवादी नेताओं से मिलने जा रहे थे और यह भेंट साईंबाबा की मदद से तय हुई थी।



साईबाबा शारीरिक रूप से विकलांग हैं और कहीं आने-जाने को लेकर व्हीलचेयर के सहारे पर हैं। वो रिवोल्यूशनरी डेमोक्रेटिक फ्रंट नाम की भी एक संस्था से जुड़े हुए हैं।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned