ड्रैगन का घमंड तोड़ेगी भारत की ये परमाणु मिसाइल, अमरीकी विशेषज्ञ बोले- चीन का हर शहर होगा निशाने पर

Abhishek Pareek

Publish: Jul, 14 2017 11:31:00 (IST)

National News
ड्रैगन का घमंड तोड़ेगी भारत की ये परमाणु मिसाइल, अमरीकी विशेषज्ञ बोले- चीन का हर शहर होगा निशाने पर

ताकत के घमंड में चूर चीन का भ्रम तोड़ने के लिए एक रिपोर्ट काफी है, जिसमें बताया गया है कि भारत अपनी मिसाइलों के जरिए चीन के किसी भी हिस्से से उसे निशाना बना सकता है।

सिक्किम के डोकलाम को लेकर चीन लगातार भारत को गीदड़ भभकियां दे रहा है। मालाबार सैन्य अभ्यास में भारत ने अमरीका आैर जापान के साथ मिलकर चीन को अपनी ताकत दिखार्इ है। इससे चीन बौखला उठा है। हालांकि ताकत के घमंड में चूर चीन का भ्रम तोड़ने के लिए एक रिपोर्ट काफी है, जिसमें बताया गया है कि भारत अपनी मिसाइलों के जरिए चीन के किसी भी हिस्से से उसे निशाना बना सकता है।



दो अमरीकी विशेषज्ञों ने बताया है कि भारत एेसी मिसाइल बनाने में जुटा है जो कि चीन के हर शहर को टारगेट करने में करने की क्षमता है। फिलहाल भारत अग्नि-4 मिसाइल के जरिए चीन के हर शहर को टारगेट कर सकता है। हालांकि अग्नि-5 एेसी मिसाइल होगी जिसके जरिए भारत पांच हजार किलोमीटर की रेंज में मौजूद अपने किसी भी दुश्मन काे निशाना बना सकता है।



अमरीका की एक आॅनलाइन मैगजीन ने एक रिपोर्ट प्रकाशित की है। रिपोर्ट में भारत की परमाणु ताकत आैर परमाणु ताकत से लैस मिसाइलों के बारे में खासतौर पर जिक्र किया गया है। दो न्यूक्लियर एक्सपर्ट हैंस एम क्रिस्टेनसेन आैर राॅबर्ट एस नाॅरिस ने रिपोर्ट में लिखा है कि भारत अब लगातार चीन पर फोकस कर रहा है। उसके पास 150 से 200 परमाणु हथियारों के निर्माण के लिए प्लूटोनियम मौजूद है। वहीं भारत के पास फिलहाल 120 से 130 परमाणु हथियार मौजूद हैं। विशेषज्ञों का कहना है कि अभी तक भारत की परमाणु नीति का केन्द्र पाकिस्तान ही था, लेकिन अब इसमें बदलाव आ रहा है।



रिपोर्ट के मुताबिक अभी भारत के पास सात परमाणु क्षमता से लैस डिफेंस सिस्टम काम कर रहे हैं, वहीं पर दो हवार्इ, चार जमीनी आैर एक समुद्री बेस बैलेस्टिक मिसाइल सिस्टम हैं। रिपोर्ट का दावा है कि वो एेसे चार आैर सिस्टम्स पर काम कर रहे हैं, जिन्हें अगले दस सालों में तैनात किया जा सकता है।



साथ ही रिपोर्ट में कहा गया है कि भारत की अग्नि-2 मिसाइल परमाणु हथियार के साथ 2 हजार किलोमीटर के टारगेट तक जा सकती है। इसके जरिए भारत चीन के पश्चिमी, मध्य आैर दक्षिणी इलाके को टारगेट कर सकता है। वहीं अग्नि-4 उत्तर-पूर्व से बीजिंग आैर शंघार्इ सहित लगभग पूरे चीन को अपनी जद में ले सकती है।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned