अबकी बार मोदी का 'विवाद-भगाओ' आसन, चीनी मैट से हुए विवाद के बाद 11-11 सौ में बनवाई विशेष मैट

National News
अबकी बार मोदी का 'विवाद-भगाओ' आसन, चीनी मैट से हुए विवाद के बाद 11-11 सौ में बनवाई विशेष मैट

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पिछली बार योग दिवस के मौके पर चीनी योग मैट का इस्तेमाल करने की वजह से हुए विवाद के बाद इस बार विशेष आसन तैयार करवाए हैं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पिछली बार योग दिवस के मौके पर चीनी योग मैट का इस्तेमाल करने की वजह से हुए विवाद के बाद इस बार विशेष आसन तैयार करवाए हैं। स्थानीय बुनकरों से तैयार करवाए गए विशेष आसन की कीमत सामान्य मैट के मुकाबले छह गुनी है। 



प्रधानमंत्री के निर्देश पर केंद्रीय आयुष मंत्रालय ने इसे तैयार करवाया है। सामान्य मैट जहां सरकार लगभग 145 रुपए में खरीद रही है, ये मैट 1100 रुपए के हैं। इन्हें खादी और ग्रामोद्योग आयोग से तैयार करवाया गया है।



सीमित संख्या में ही बने

इन आसनों को दूतावासों के साथ लखनऊ भी भेजा गया है। लेकिन प्रधानमंत्री के नेतृत्व में होने वाले वहां के मुख्य कार्यक्रम में इनका इस्तेमाल किया जाए या नहीं, इसको लेकर फैसला नहीं हो सका है। क्योंकि वहां 51 हजार लोग मौजूद रहेंगे। जबकि ये विशेष मैट बहुत सीमित संख्या में बन सके हैं।



सभी सामग्री स्वदेशी



वैसे इस बार मंत्रालय ने इस बात का पूरी तरह ध्यान रखा है कि विदेश में बनी किसी सामग्री का इस दौरान उपयोग नहीं हो। पिछले वर्षों की तरह इस बार भी सफेद टी-शर्ट तैयार करवाई गई है।



योग ओलंपियाड

इस बार एनसीईआरटी की ओर से देश भर के स्कूलों में योग ओलंपियाड आयोजित करवाया जा रहा है। इसके विजेताओं को राष्ट्रीय स्तर पर सम्मानित किया जाएगा।



इस बार हर जिले में योग पार्क

प्रधानमंत्री ने यह निर्देश भी दिया है कि योग दिवस एक दिन का कार्यक्रम बनने की बजाय निरंतर अभ्यास में लाई जाने वाली गतिविधि बने। इसके लिए इस बार सौ जिलों में योग पार्क तैयार किए जाएंगे। आयुष मंत्रालय के साथ जुड़े गैर सरकारी संगठनों को कहा गया है कि वे ऐसे पार्क में योग के लिए एक जगह नियत करवाएं ताकि लोग नियमित तौर पर वहां आकर योग करने को प्रोत्साहित हों। अगले वर्ष इसे पांच सौ जिलों में शुरू किया जाएगा।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned