केजरीवाल पर कपिल मिश्रा के हमले जारी, कहा- साल में सिर्फ दो बार गए आॅफिस, बड़े दिनों बाद सरकार-3 देखने निकले

National News
केजरीवाल पर कपिल मिश्रा के हमले जारी, कहा- साल में सिर्फ दो बार गए आॅफिस, बड़े दिनों बाद सरकार-3 देखने निकले

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल केजरीवाल के खिलाफ भ्रष्टाचार के आरोपों को लेकर मोर्चा खोलने वाले पूर्व मंत्री कपिल मिश्रा ने एक बार फिर मुख्यमंत्री पर नया हमला बोला है।

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल केजरीवाल के खिलाफ भ्रष्टाचार के आरोपों को लेकर मोर्चा खोलने वाले पूर्व मंत्री कपिल मिश्रा ने एक बार फिर मुख्यमंत्री पर नया हमला बोला है। उन्होंने केजरीवाल को सबसे कम कार्यालय जाने वाला और सबसे कम काम करने वाला मुख्यमंत्री बताया। 




मिश्रा ने अपने ट्वीटर अकाउंट पर लिखी एक पोस्ट में केजरीवाल पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि आखिरी बार केजरीवाल दफ्तर कब गए थे। दिल्ली वालों को अंदाजा भी नहीं कि उनका मुख्यमंत्री पिछले एक साल में मुश्किल से दो दिन कार्यालय गया है। 



उन्होंने लिखा, 'सगे संबंधियों पर छापे छापे पड़ रहे हैं, भ्रष्टाचार के रोज नए मामले सामने आ रहे हैं, जनता से पूरी तरह कटे सीएम बिल्कुल चुप, बड़े दिनों बाद घर से निकले सरकार-3 देखने। जी हां, सरकार-3, अब इसे क्या कहें, मुंगेरीलाल के हसीन सपने, मैं सोच रहा था कि आखिर अरविंद केजरीवाल जी दफ्तर कब गए थे? सचिवालय की सीढ़ियां कब चढ़ी थी? दिल्ली वालों को शायद अंदाज़ भी न हो कि उनका सीएम पिछले एक साल में मुश्किल से दो दिन आॅफिस गया है।'




करावल नगर से आम आदमी पार्टी (आप) के विधायक मिश्रा ने केजरीवाल को देश का सबसे कम जनता से मिलने वाला, सबसे कम दफ्तर जाने वाला, देश का अकेला मुख्यमंत्री जिसके पास कोई विभाग नहीं और सबसे कम काम करने वाला मुख्यमंत्री बताया है। 




उन्होंने सवाल किया कि केजरीवाल में क्या अपनी खुद की 'परफार्मेंस' रिपोर्ट जनता के सामने रखने का माद्दा है। मिश्रा ने केंद्रीय जांच ब्यूरो के समक्ष केजरीवाल से जुड़े कथित हवाला कारोबार के दस्तावेज सौंपकर अपनी शिकायत दर्ज कराई है। 




उन्होंने लिखा है कि सबसे ज्यादा छुट्टियां लेने वाला सीएम और वह ऐसे सीएम बनने वाले हैं जिन पर देश में सबसे ज्यादा भ्रष्टाचार के मामले चल रहे हैं। पूर्व मंत्री ने केजरीवाल को खुली चुनौती दी है कि जो भी आरोप पोस्ट में उन पर लगाए गए हैं, इसमें से एक भी गलत साबित करके बताइए। 







Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned