VIP कल्चर पर पीएम मोदी के फैसले का असर, समय से पहले मंत्रियों ने हटाई लालबत्ती

National News
VIP कल्चर पर पीएम मोदी के फैसले का असर, समय से पहले मंत्रियों ने हटाई लालबत्ती

गडकरी ने बताया कि उन्होंने अपनी गाड़ी पर लगी लाल बत्ती को भी हटा दिया है। गडकरी अपनी सरकारी गाड़ी से इस बत्ती को हटाने वाले पहले नेता हैं।

केन्द्र सरकार ने वीआईपी कल्चर को खत्म करने के उद्देश्य से मंत्रियों और वरिष्ठ अधिकारियों की गाडिय़ों पर लाल बत्ती लगाने की व्यवस्था को 1 मई से समाप्त करने के इस फैसले का असर दिखने लगा है। पीएम मोदी ने अपनी मंत्रिमंडल की बैठक में बुधवार को इस फैसले की जानकारी दी। 



तो वहीं पीएम के इस फैसले के बाद एक - एक कर केंद्रीय मंत्री अपनी सरकारी गाड़ियों से लाल बत्ती को हटाना शुरु कर दिया है। केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी, विजय गोयल, महेश शर्मा, बिहार से बीजेपी सांसद गिरीराज सिंह समेत महाराष्ट्र के सीएम देवेन्द्र फणनवीस ने अपनी गाड़ी से लाल बत्ती को हटा लिया है। 



बिहार बीजेपी सांसद गिरीराज सिंह को जब पीएम की बैठक में लिए गए इस फैसले की खबर मिली। तो उन्होंने बिना देर किए अपनी कार से खुद ही लाल बत्ती हटा लिए। तो वहीं कई बीजेपी नेताओं ने पीएम मोदी के इस फैसले का खुलकर स्वागत किया है। 



प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंत्रिमंडल की बैठक में अपने इस फैसले की जानकारी दी। केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने अपनी खुद की कार से लालबत्ती हटाने के बाद ये जानकारी दी। इसका एक सांकेतिक महत्व भी है।



गडकरी ने बताया कि उन्होंने अपनी गाड़ी पर लगी लाल बत्ती को भी हटा दिया है। गडकरी अपनी सरकारी गाड़ी से इस बत्ती को हटाने वाले पहले नेता हैं। उन्होंने कहा, 'हमारी सरकार आम लोगों की सरकार है इसलिए हमने लाल बत्ती और हूटर्स का वीवीआईपी कल्चर खत्म करने का फैसला किया है।' 



ऐसा देखा गया है कि लाल बत्ती लगे वाहनों के गुजरने के पहले ही सुरक्षाकर्मी सड़कों पर आम लोगों की आवाजाही बंद कर देते हैं और उनके गुजरने के बाद ही आम लोगों को आने जाने की इजाजत दी जाती है। इसके कारण कई बार गंभीर रूप से बीमार लोगों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ता है।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned