विक्की-गट्टू को फिर रिमांड पर लेने के लिए कसरत, पुलिस और एसओजी खंगाल रही मामले

Jaipur, Rajasthan, India
विक्की-गट्टू को फिर रिमांड पर लेने के लिए कसरत, पुलिस और एसओजी खंगाल रही मामले

गैंगस्टर आनंदपाल को शरण देने वालों सहित उसके मददगारों की शिनाख्त के लिए स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप (एसओजी) और पुलिस अब ऐसे मामले खंगाल रही है, जिनकी मदद से आनंदपाल के भाइयों को पुन: रिमांड पर लिया जा सके।

गैंगस्टर आनंदपाल को शरण देने वालों सहित उसके मददगारों की शिनाख्त के लिए स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप (एसओजी) और पुलिस अब ऐसे मामले खंगाल रही है, जिनकी मदद से आनंदपाल के भाइयों को पुन: रिमांड पर लिया जा सके। सूत्रों के अनुसार आनंदपाल के भाई रूपेश उर्फ विक्की और चचेरे भाई देवेन्द्र उर्फ गट्टू को फरारी मामले में 5 दिन के रिमांड पर सौंपा था। लेकिन, एनकाउंटर के बाद माहौल गरमाने से पूछताछ पूरी नहीं हो पाई।



एसओजी ने उन जिलों के पुलिस अधीक्षकों से सम्पर्क कर रही है, जहां दर्ज मुकदमों में दोनों फरार हैं। एसओजी सूत्रों के मुताबिक करीब 10 मामलों में दोनों रिमांड पर लिए जा सकते हैं। आनंदपाल फरारी के मामले में विक्की-गट्टू खुलासा कर सकते हैं कि किस राज्य में आनंदपाल को किसने शरण दी और फरारी के दौरान हथियार कहां से आए। 



ये हैं प्रमुख मामले 

थानाधिकारी पर फायरिंग : जुलाई 2016 में नागौर के जसवंतगढ़ थानाधिकारी पर फायरिंग हुई थी। मामले में विक्की और गट्टू फरार हैं। दोनों ने हमला किया था। 



गुमानाराम हत्याकांड : 7 मार्च 2015 को बीकानेर जेल में राजू ठेहट को हथियार पहुंचाने वाले हनुमानाराम के भाई गुमानाराम की विक्की और गट्टू के इशारे पर शूटरों ने हत्या की थी। 



भादरा लूटकांड : 2 8  नवंबर, 16  को नोटबंदी के दौरान विक्की और गट्टू ने साथियों के साथ भादरा में एक कारोबारी से 75  लाख रु. लूटे थे। 



हिम्मत सिंह हत्याकांड : 12  मई 2015  को विद्याधरनगर में अलंकार प्लाजा के पास हिम्मत सिंह हत्यकांड में गट्टू की भूमिका अहम थी। वह तब से ही फरार था। 



सैल्समैन हत्याकांड : 19  जून 2011  को सांडवा-चूरू के गनोडा में शराब सेल्समैन राकेश जाट की आनंदपाल, उसके भाई मंजीत, विक्की और अन्य ने हत्या की थी। इसमें विक्की अब तक फरार है। 



पैरोल से फरारी : विक्की पैरोल पर जेल से बाहर आया था। १६ फरवरी 2015  को उसकी पैरोल अवधि पूरी हो गई लेकिन वह जेल नहीं गया। 

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned