जयपुर: सरहद पर देश के लिए मर मिटने की चाह, सेना भर्ती रैली में उमड़ पड़े हज़ारों युवा

Jaipur, Rajasthan, India
जयपुर: सरहद पर देश के लिए मर मिटने की चाह, सेना भर्ती रैली में उमड़ पड़े हज़ारों युवा

सेना भर्ती में सोल्जर जनरल ड्यूटी, सोल्जर टेक्निकल, सोल्जर क्लर्क, सोल्जर नर्सिंग असिस्टेंट, सोल्जर ट्रेड्समैन और रिलिजियस टीचर के पद रखे गए हैं।

केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल की आरक्षित वाहिनी मुख्यालय में गुरुवार से सेना भर्ती रैली शुरू हुई। भर्ती स्थल पर बुधवार शाम से ही युवाओं का पहुंचना शुरू हो गया था। प्रशासन ने अलसुबह दो बजे से कूपन, आई कार्ड और दूसरे दस्तावेज जांचने के बाद प्रवेश दिया। छात्रों का प्रवेश सुबह सात बजे रोक दिया गया।





जयपुर जिले के अभ्यर्थियों के लिए आयोजित रैली के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करने के साथ ही कूपन का वितरण किया था। राजधानी में एक से 12 दिसंबर तक तहसीलवार सेना भर्ती का कार्यक्रम तैयार किया गया है। इसके लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया पूरी करने के बाद छह दिसंबर तक फिजिकल टेस्ट सीआईएसएफ के मुख्यालय में आयोजित होगा और 11 दिसंबर तक डाक्यूमेंटस की जांच होगी आवश्यकता होने पर 12 दिसंबर को भी भर्ती रखी जाएगी। 


READ: फौजी बेटे को सरहद पर भेजते वक्त मां बोली- दहशतगर्दों को एक गोली मेरी ओर से भी मार देना


सबसे पहले सांगानेर, जयपुर और जमवारामगढ़ तहसील के युवाओं की भर्ती के लिए बुलाया गया है। इसके बाद कोटपूतली तहसील दो दिसंबर, तीन दिसंबर को चौंमू, फागी तहसील के लिए रखा गया है। सेना भर्ती में सोल्जर जनरल ड्यूटी, सोल्जर टेक्निकल, सोल्जर क्लर्क, सोल्जर नर्सिंग असिस्टेंट, सोल्जर ट्रेड्समैन और रिलिजियस टीचर के पद रखे गए हैं। 



दौड़ से पहले शपथ

फिजिकल से पहले अभ्यर्थियों को शपथ दिलाई जा रही थी। इसमें किसी भी तरह की चोट लगने या शारारिक क्षति पर खुद की जिम्मेदारी ठहराते हुए किसी भी तरह की नशीली वस्तु का सेवन पाया गया तो उसे अयोग्य ठहराने की समझाइश की और शपथ दिलाई। 


READ: सेना भर्ती में देखने को मिलेगा बड़ा बदलाव, अब पहले होगी लिखित परीक्षा


बेरिकेड्स और बस का इंतजाम

पुरानी भर्तियों से सबक लेते हुए प्रशासन ने दिल्ली रोड से बेरिकेड्स लगाए। इसी के साथ अतिरिक्त बसों का इंतजाम किया गया है ताकि जैसे एक बैच का फिजिकल पूरा हो उन्हें वापस बस और रेलवे स्टेशन पहुंचाया जा सके। इसी के साथ फायर बिग्रेड और एंबुलेंस का इंतजाम भी किया गया है।



कंट्रोल रूम बने

जिला प्रशासन ने अभ्यर्थियों की सुविधा के लिए मुख्यालय के बाहर कंट्रोल रूम बनाया है ताकि किसी भी तरह की परेशानी होने पर तत्काल निस्तारण किया जा सके। इसी के साथ एडीएम साऊथ हरीसिंह मीणा सहित दूसरे अधिकारी तैनात रहे।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned