आनंदपाल की बेटी बोली- फैमिली को भूखा कमरे में बंदकर ले गए थे पापा की बॉडी, इंसाफ न मिला तो सुसाइड कर लूंगी

Jaipur, Rajasthan, India
आनंदपाल की बेटी बोली- फैमिली को भूखा कमरे में बंदकर ले गए थे पापा की बॉडी, इंसाफ न मिला तो सुसाइड कर लूंगी

गैंगस्टर की अंत्येष्टि के बाद चीनू ने कहा है कि कानून की मदद लेंगे। इस तरह किसी को प्रताडि़त नहीं किया जाता। जो भी पुलिस-प्रशासन द्वारा दिखाया जा रहा है सब कुछ झूठ है। बिना सहमति के लाश रात में जला दी गई क्यों?

राजस्थान समेत 5 प्रांतों की पुलिस के निशाने पर रहे 6 मर्डर के आरोपी आनंदपाल सिंह के शव की अंत्येष्टि 20 दिन बाद नागौर जिले के सांवराद गांव में हुई। सत्तापक्ष से समर्थकों की भिंड़त के भारी गतिरोध के बीच पुलिस फोर्स की मौजूदगी में डेड बॉड़ी को शमशान ले जाया गया।



इस दौरान आनंदपाल के परिवार ने पुलिस पर प्रताडऩा का आरोप लगाते हुए अन्याय की बात कही। आनंदपाल की बड़ी बेटी चीनू ने दुबई से कहा- सिपाहियों ने फैमिली को भूखा कमरे में बंद कर दिया। जबरन पापा की बॉडी जलाने ले गए थे। यदि उन्हें और उनके परिवार को न्याय नहीं मिला तो आत्मदाह कर लेंगी।''



घर पर कोई पुरुष सदस्य नहीं था, ममेरे भाई ने दी मुखाग्नि

गैंगस्टर की बेटी के मुताबिक, राजनेताओं के षडयंत्र के तहत पुलिस ने परिवार को बहुत प्रताडि़त किया। सिपाहियों ने हदें पार कर दीं। सभी पुरुष सदस्यों को गिरफ्तार कर लिया गया। मेरी मां, बहन, भाई बेहोश हैं। हमारे घर पर कोई पुरुष सदस्य नहीं था। आनंदपाल के ममेरे भाई रणवीर ने मुखाग्नि दी।



Read: जयपुर पुलिस ठगों की इस गैंग के 7 बदमाशों को धर चुकी थी, अब 8वां बबलू मुंबई में हाथ आया
दुबई में इंजीनियरिंग की पढ़ाई कर रही चीनूआनंदपाल की छोटी बेटी महाराष्ट्री से घर लौटी। जबकि, बड़ी बेटी चीनू दुबई में इंजीनियरिंग की पढ़ाई कर रही है। उसका कहना है कि ''हमें न्याय नहीं मिला तो सुसाइड कर लूंगी। उसने कहा- इस तरह किसी को प्रताडि़त नहीं किया जाता। जो भी पुलिस-प्रशासन द्वारा दिखाया जा रहा है सब कुछ झूठ है। बिना सहमति के लाश रात में जला दी गई क्यों? सूरज डूबने के बाद मेरे पापा की शवयात्रा निकाली गई.. ये कैसे सही है।''



Read: बेटियों को सरकारी नौकरी लगवाने के नाम पर 14 लाख की ठगी, शिक्षा विभाग में 'लंबे हाथ' होने की बातें कही थीं

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned