जयपुर में जिन्होंने 35 लाख रु. की ब्लैकमेलिंग की, उनकी जमानत अर्जी को मजिस्ट्रेट ने किया खारिज

vijay ram

Publish: Apr, 12 2017 04:07:00 (IST)

Jaipur, Rajasthan, India
जयपुर में जिन्होंने 35 लाख रु. की ब्लैकमेलिंग की, उनकी जमानत अर्जी को मजिस्ट्रेट ने किया खारिज

शहर में हुई हाई प्रोफाइल सेक्स ब्लैकमेलिंग में आरोपित वकील नवीन अभी सलाखों के पीछे ही रहेगा...

हाई प्रोफाइल ब्लैकमेंलिग केस में जेल में बंद आरोपी देवानी की जमानत अर्जी मुख्य महानगर मजिस्ट्रेट अजय गोदारा ने खारिज कर दी है। देवानी की ओर से दो मुकदमों में जमानत अर्जी लगाई थी।



संवाद सूत्रों ने बताया कि शहर में हुई हाई प्रोफाइल सेक्स ब्लैकमेलिंग में आरोपित वकील नवीन देवानी को अभी राहत नहीं मिलेगी। मामले में मुख्य महानगर मजिस्ट्रेट अजय गोदारा ने सुनवाई की, जिसमें आरोपित की जमानत अर्जी खारिज कर दी गई। इस मामले में आरोपित ने मुकदमा नंबर 13/16 और 1/17 में जमानत अर्जी दाखिल की थी।


jaipur/jaipur-s-girl-safely-come-back-to-home-who-have-dreamed-of-becoming-a-heroine-2479749.html">
Read: हीरोइन बनने निकली जयपुर की छात्रा को गुजरात पुलिस ने बचाया, मथुरा से मुंबई की ट्रेन पकड़ी थी

मुकदमा नंबर 13/2016 में वकील नितेश बंधु शर्मा, अक्षत शर्मा, विजय शर्मा, नवीन देवानी और शिवानी वर्मा जेल में हैं। इस प्रकरण में नवरतन सिंह राठौड़ ने एसओजी में मुकदमा दर्ज करवाया था। इसके अलावा मुकदमा नंबर 1/17 में रवनीत कौर बरार, विजय शर्मा, अक्षत शर्मा, अ िालेश मिश्रा, विक्रम, बलराम और नवीन देवानी समेत अन्य समेत अन्य आरोपित हैं। इसमें अजय राठौड़ ने मुकदमा दर्ज करवाया था जिसमें एसओजी ने 4 मार्च को चालान पेश किया। इस प्रकरण में परिवादी से 35 लाख रुपए ब्लैकमेलिंग करने का आरोप है।



Read: हाईप्रोफाइल ब्लैकमेलिंग: डॉक्टर को पुष्कर में फंसाकर 1 करोड़ मांगने वाली युवती के केस में SOG ने दर्ज किए 11 मुकदमे, यह है पूरी कहानी

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned