नए मुख्य सचिव की तलाश, मीना ने समेटना शुरू किया सरकारी बंगले से सामान

santosh trivedi

Publish: Jun, 20 2017 10:25:00 (IST)

Jaipur, Rajasthan, India
नए मुख्य सचिव की तलाश, मीना ने समेटना शुरू किया सरकारी बंगले से सामान

प्रदेश के नए मुख्य सचिव की नियुक्ति को लेकर काउंटडाउन शुरू हो चुका है। वहीं इस पद से 30 जून को रिटायर हो रहे ओ.पी.मीना ने सरकारी बंगले से सामान निकालना शुरू कर दिया है।

प्रदेश के नए मुख्य सचिव की नियुक्ति को लेकर काउंटडाउन शुरू हो चुका है। वहीं इस पद से 30 जून को रिटायर हो रहे ओ.पी.मीना ने सरकारी बंगले से सामान निकालना शुरू कर दिया है।  सरकार ने नए मुख्य सचिव की तलाश के लिए कवायद शुरू कर दी है। अफसरों में इसको लेकर लॉबिंग शुरू हो चुकी है। हालांकि अंतिम निर्णय मुख्यमंत्री को करना है। 



इसी बीच वर्तमान मुख्य सचिव मीना ने एस.एम.एस अस्पताल के समीप सरकारी बंगले को खाली करवाना शुरू कर दिया। सोमवार को यहां से ट्रकों में बड़ी तादाद में सामान को उनके निजी आवास पर शिफ्ट किया गया। इसमें एक ट्रक वन विभाग का होने की जानकारी भी आई है।



कौर और उपाध्याय का नाम भी आगे आया 

सूत्रों ने बताया कि जहां कुछ दिन पहले तक वन एवं पर्यावरण के अतिरिक्त मुख्य सचिव एन.सी.गोयल और अतिरिक्त मुख्य सचिव (इंफ्रास्ट्रक्चर) डी बी गुप्ता इस पद के दावेदार बताए जा रहे थे। वहीं अब दौड़ में अतिरिक्त मुख्य सचिव (रीपा) गुरजौत कौर और उच्च व संस्कृत शिक्षा के अतिरिक्त मुख्य सचिव राजहंस उपाध्याय का नाम भी जुड़ गया है। 



कौर वरिष्ठ होने के साथ महिला हैं। इसके अलावा वे विवादों से दूर हैं। उनके मुख्य सचिव बनाने से सरकार को सिर्फ दो अधिकारियों की वरिष्ठता को लांघना पड़ेगा। साथ ही उनका कार्यकाल भी जनवरी 2019 तक रहेगा। ऐसे में चुनावी वर्ष में सरकार को नया मुख्य सचिव तलाशना नहीं पड़ेगा। वैसे 1980 बैच के आईएएस अशोक शेखर सबसे वरिष्ठ हैं, लेकिन उनके सीएस बनने की संभावना कम बताई जा रही है। उनके बाद अशोक जैन  का नंबर आता है, लेकिन वे अब सरकार की पसंद नहीं बताए जा रहे हैं। 

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned