300 करोड़ के सीजन के लिए सजने-संवरने लगी होटलें और रिसोट्र्स

jitendra changani

Publish: Jul, 14 2017 10:37:00 (IST)

Jaisalmer, Rajasthan, India
300 करोड़ के सीजन के लिए सजने-संवरने लगी होटलें और रिसोट्र्स

-पर्यटन व्यवसायियों ने सीजन के लिए तैयारियां प्रारंभ की -मार्च तक चलता है पर्यटन सीजन


जैसलमेर. स्वर्णनगरी आगामी पर्यटन सीजन के लिए तैयार हो रही है। अगस्त से मार्च माह तक चलने वाले सीजन के मद्देनजर जैसलमेर की होटलों से लेकर सम और खुहड़ी के रिसोट्र्स को बाहर से भीतर तक संवारा जा रहा है वहीं हैंडीक्राफ्ट की दुकानों और ट्रेवल एजेंसियों के संचालकों ने भी अपने तईं तैयारियां शुरू कर दी हैं। इन प्रतिष्ठानों पर रंग-रोगन के साथ आवश्यक साज-सजावट पर विषेष ध्यान दिया जा रहा है। जैसलमेर का आठ माह चलने वाले पर्यटन सीजन के दौरान सब मिलाकर करीब तीन सौ करोड़ रुपए का व्यवसाय होता है। इतनी बड़ी राशि के व्यवसाय के लिए तैयारियां भी वृहद तौर पर की जा रही हैं।
पर्यटन व्यवसायियों की छुट्टियां खत्म
जैसलमेर में गर्मी के दौरान पर्यटन सीजन को ‘ऑफ’ माना जाता है। हालांकि बीते वर्षों के दौरान अप्रेल से जून तक के तीन अत्यंत गर्म महीनों में भी छिटपुट सैलानियों के आगमन का दौर चलता रहता है, लेकिन पर्यटन से जुड़े लोग इसकी गिनती नहीं करते।यही वजह है कि गर्मियों में जिस तरह से स्कूल-कॉलेज के विद्यार्थी छुट्टियां मनाते हैं, वैसे ही पर्यटन व्यवसायी और इससे संबंधित कार्मिक आराम करने को तवज्जो देते हैं। जुलाई से वे आगामी सीजन की तैयारियों में जुट चुके हैं। उन्हें उम्मीद है कि आगामी अगस्त से सीजन वास्तविक रूप में जोर पकडऩा शुरू कर देगा। वैसे चालू माह में विदेषी सैलानियों के बड़े ग्रुप्स के जैसलमेर पहुंचने का दौर षुरू हो चुका है।
प्रतिवर्ष बढ़ रहा जैसलमेर के प्रति रुझान
देष के पर्यटन नक्शे पर जैसलमेर की पहचान अब स्थायी रूप से पर्यटन नगरी के रूप में होने लगी है। यही वजह है कि यहां आने वाले सैलानियों की संख्या में इजाफा दर्ज किया जा रहा है। पर्यटन के शुरुआती समय में जहां विदेशी सैलानियों के अलावा देशी पर्यटकों के नाम पर केवल बंगाली और गुजराती पर्यटक यहां घूमने आते थे, अब हालात में आमूल बदलाव आ गया है। देश के कोने-कोने से सैलानी जैसलमेर आ रहे हैं। राजस्थान के शहरों तथा छोटे-छोटे कस्बों तक से लोगों के बीच जैसलमेर भ्रमण का लोकप्रिय स्थान बन चुका है। वर्तमान में पांच लाख से ज्यादा सैलानी प्रतिवर्ष जैसलमेर जुटते हैं।
बुकिंग के लिए सम्पर्क शुरू
पर्यटन सीजन के विधिवत शुरू होने से पहले ही बड़ी होटलों और रिसोट्र्स में आगामी सर्दी के मौसम के दौरान जैसलमेर घूमने का कार्यक्रम बनाने वाले सैलानी अग्रिम बुकिंग के लिए सम्पर्क करने लगे हैं। होटल व रिसोट्र्स वाले इसके लिए दो तरह के रेट कार्ड रखते हैं-एक सीजन का और दूसरा ऑफ  सीजन का। सर्दियों का समय जैसलमेर पर्यटन का चरम पक्ष होता है। बीते समय के दौरान पर्यटन व्यवसाय बहुत कुछ ऑनलाइन बुकिंग पर निर्भर हो चुका है। दिवाली, क्रिसमस और न्यू ईयर सेलिब्रेषन जैसे अवसरों के लिए अभी से सैलानी पूछताछ करने लगे हैं। 

फैक्ट फाइल
-05 लाख सैलानी प्रतिवर्ष आते हैं जैसलमेर/div>
-250 होटलें हैं जैसलमेर में 
-60 रिसोट्र्स सम सेंडड्यून्स में 
-08 महीने रहता है जैसलमेर में पर्यटन सीजन

अच्छे सीजन की आस
पर्यटन सीजन को लेकर तैयारियां प्रारंभ हो चुकी हैं और हम उम्मीद करते हैं कि आगामी सीजन पर्यटकों से भरा-पूरा होगा। वर्ष दर वर्ष सैलानियों का प्रवाह जैसलमेर की तरफ  बढ़ रहा है। इससे हजारों लोगों को प्रत्यक्ष रोजगार मिलता है और जिले की अर्थव्यवस्था को बल मिलता है।
-कैलाश व्यास, अध्यक्ष, सम कैम्प एंड रिसोट्र्स एसोसिएशन

अधिकाधिक सुविधाओं के लिए प्रयास
सीजन में सैलानियों को अधिकाधिक सुविधाएं प्रदान करने के लिए हम पर्यटन व्यवसायी अपनी ओर से कोई कसर नहीं छोड़ रहे हैं, जिससे सैलानी यहां से मधुर यादें लेकर लौटें ताकि पर्यटन व्यवसाय और बढ़े।
-मयंक भाटिया, होटल व्यवसायी

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned