जोधपुर में 3 हजार रुपए के बदले बंद मकानों में बच्चों से करवा रहे थे ये काम!

Jodhpur, Rajasthan, India
जोधपुर में 3 हजार रुपए के बदले बंद मकानों में बच्चों से करवा रहे थे ये काम!

मानव तस्करी यूनिट ने सोमवार को मदेरणा कॉलोनी स्थित दो मकानों में दबिश देकर आरातारी का काम कर रहे 16 बाल श्रमिकों को मुक्त करवाया।

मानव तस्करी यूनिट ने सोमवार को मदेरणा कॉलोनी स्थित दो मकानों में दबिश देकर आरातारी का काम कर रहे 16 बाल श्रमिकों को मुक्त करवाया। पुलिस ने मौके से पांच जनों को गिरफ्तार किया है। ये आरोपी इन बालकों से तीन हजार रुपए मासिक मजदूरी के बदले रोजाना 12 से 14 घंटे काम करवाते थे। पुलिस ने इनके खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।


जोधपुर में चला क्राइम का ये घिनौना खेल, कहीं नौकरी के नाम पर लूटी अस्मत तो कहीं नाबालिग को भगाया


मानव तस्करी यूनिट प्रभारी भंवरलाल जाखड़ के अनुसार मुखबिर की इत्तला पर महामंदिर थाना क्षेत्र के मदेरणा कॉलोनी में बुंदू खां व शरीफ भाई के मकान पर पुलिस ने दोपहर में दबिश दी। यहां 16 बच्चों से आरातारी का काम करवाया जा रहा था। बच्चे बंद मकान में गर्मी से पसीने से तरबतर थे। पुलिस ने मौके से बंगाल निवासी जुल्फिकार, अमीन, जेनूद्दीन, इकराम कुरैशी व आरजू को गिरफ्तार किया।


जोधपुर में बुजुर्गों को ये करते देख युवाओं ने दांतों तले अंगुली दबाई


ये पांचों आरोपी बच्चों को बंगाल व बिहार से लेकर आए थे। इन्होंने बच्चों के परिजनों से कहा था कि बच्चों से कुछ देर काम करवाया जाएगा, बाकी समय मदरसे में पढ़ाया जाएगा, लेकिन यहां उनसे लगातार काम करवाया जा रहा था। बच्चों को निम्न स्तर का खाना दिया जाता था। सभी 16 बच्चों को किशोर गृह भेज दिया गया है। मकान मालिकों से भी पुलिस पूछताछ करेगी।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned