दिनदहाड़े फायरिंग कर शहर की हार्टलाइन से भागे शूटर, 22 मिनट देरी से हरकत में आई थी जोधपुर पुलिस

Jodhpur, Rajasthan, India
दिनदहाड़े फायरिंग कर शहर की हार्टलाइन से भागे शूटर, 22 मिनट देरी से हरकत में आई थी जोधपुर पुलिस

जोधपुर के पांचवी रोड चौराहे पर दिन दहाड़े हुई फायरिंग में आरोपी शूटर शहर की हार्टलाइन से भाग निकले थे, जो पुलिस के 22 मिनट देरी से हरकत में आने की वजह से हुआ।

पांचवीं रोड चौराहे के पास स्थित दुकान के बाहर दिनदहाड़े फायरिंग करने वाले पुलिस से किस तरह बेखौफ थे, इसका इसी बात से लगाया जा सकता है कि फायरिंग के बाद वे शहर के बीचों-बीच होकर भाग निकले। पुलिस के हरकत में आने से पहले ही हमलावर 5वीं रोड से जालोरी गेट, सोजती गेट तथा नई सड़क होते हुए भाग छूटे। हमलावरों की कार की अंतिम लोकेशन रातानाडा क्षेत्र में आई, लेकिन फिर भी पुलिस न तो कार पकड़ पाई और न ही हमलावरों का सुराग लगा। पुलिस ने मूलत: खुडाला हाल आरटीओ ऑफिस के पीछे निवासी सुनील कावां व मनोज बिश्नोई को नामजद किया है। वारदात में प्रयुक्त कार सुनील कावां की मां के नाम पंजीबद्ध है। उसके खिलाफ आधा दर्जन से अधिक मामले दर्ज हैं। जिनमें मादक पदार्थ की तस्करी के भी शामिल है।



मौके की बजाय, चौकी से मिली सूचना

पुलिस की मानें तो दोपहर करीब तीन बजे फायरिंग की गई थी। वारदातस्थल के पास कई लोग जमा थे, लेकिन पुलिस व आमजन में बढ़ रही दूरियों के चलते किसी ने पुलिस को सूचित नहीं किया। घायलों को उनके ही परिचित एमजीएच ले गए, जहां पुलिस चौकी से दोपहर 3.22 बजे संबंधित पुलिस को अवगत कराया गया। बाइस मिनट की देरी का फायदा हमलावरों को मिला और पुलिस के हरकत में आने से पहले भाग निकले।


READ MORE: लगातार हो रहे क्राइम के बाद आई अच्छी खबर, जोधपुर में अब इसके बाद नहीं होंगे अपराध


व्हाट्सएप पर वायरल हुई फायरिंग की सूचना

फायरिंग की सूचना शहर में आग की तरह फैल गई। सोशल साइट्स व्हाट्सएप पर वारदात संबंधी सीसीटीवी फुटेज तथा पुलिस जांच की फोटो भी चंद क्षणों में वायरल हो गईं। जिससे शहरवासियों में खौफ व्याप्त हो गया। वे एक-दूसरे को फोन कर फायरिंग की जानकारी लेते रहे।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned