राजस्थान के इस सहयोग से रेलवे का बिजनेस 25 फीसदी बढ़ा, 3 माह में 5 मिलियन माल का लदान

Jodhpur, Rajasthan, India
राजस्थान के इस सहयोग से रेलवे का बिजनेस 25 फीसदी बढ़ा, 3 माह में 5 मिलियन माल का लदान

राजस्थान न केवल सबसे बड़ा राज्य है बल्कि देश की प्रगति में इसकी भूमिका भी खासी अहम है। यही कारण है कि रेलवे के बिजनेस बढ़ाने में भी राज्य का सहयोग अहम है। जानिए ये सहयोग कौन सा है....

उत्तर पश्चिम रेलवे ने गत 3 माह में रिकार्ड 5.055 मिलियन टन माल लदान किया, जो कि गत वर्ष की इसी अवधि में 4.017 मिलियन टन की तुलना में 25.84 प्रतिशत अधिक है। उत्तर पश्चिम रेलवे क्षेत्राधिकार में मुख्यत: सीमेन्ट, लाइम स्टोन, किंलकर तथा कन्टेनर का माल-लदान होता है।


अब रेलवे से हैं आपके लिए ये खुशखबरी, मिलेंगी राजस्थान को नई ट्रेनें और जयपुर को डबल डेकर


राजस्थान में सीमेन्ट इकाइयों के प्लांट स्थित है तथा सीमेन्ट औद्योगिक इकाईयों द्वारा अपने उत्पादों का देश के अन्य भागों तक पहुचानें के लिये परिवहन के लिए रेलवे का उपयोग किया जाता है। रेलवे द्वारा जनवरी से मार्च 2017 तिमाही में 15,604 वैगन में 1.023 मिलियन टन सीमेन्ट का लदान किया गया। पिछली अवधि से इस बार सीमेन्ट का लदान दो गुना से भी अधिक किया गया।


अब ट्रेन व स्टेशन में निर्धारित से ज्यादा रुपए वसूलना पड़ेगा भारी, भरना होगा एक लाख जुर्माना!


क्लिंकर (खंगर) का लदान भी गत वर्ष की इसी अवधि से 141.80 प्रतिशत अधिक किया गया। लाइन स्टोन लदान में जनवरी से मार्च 2017 तक 35.53 प्रतिशत की वृद्धि अर्जित की गई। लाइम स्टोन में 7,265 वैगनों से 0.503 मिलियन टन लदान किया गया।


गर्मियों की छुट्टियों में लगे सैर-सपाटे को पंख, इन तीन ट्रेनों में लगेंगे अतिरिक्त कोच


उत्तर पश्चिम रेलवे पर जनवरी से मार्च 2017 तक तिमाही में 47,173 वैगन के माध्यम से 1.467 मिलियन टन माल-लदान किया गया जो कि गत वर्ष की इसी अवधि के 22,585 वैगन के माध्यम से 0.718 मिलियन टन की अपेक्षा क्रमश: 109 तथा 104.38 प्रतिशत अधिक है। 

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned