जोधपुर से अमरनाथ तीर्थयात्रा गएे लोगों ने भेजा ये संदेश...

Jodhpur, Rajasthan, India
जोधपुर से अमरनाथ तीर्थयात्रा गएे लोगों ने भेजा ये संदेश...

शशिकांत सोलंकी ने बालटाल से पत्रिका को बताया कि सेना ने नियंत्रण किया है। हमले के बाद यात्रियों की संख्या में कमी आई है।

अमरनाथ यात्रा के दौरान जोधपुर के तीर्थयात्री एकदम सुरक्षित और खैरियत से हैं। अमरनाथ श्राइन बोर्ड और तीर्थ यात्रियों से संपर्क करने पर यह बात सामने आई। उन्होंने बताया कि कहीं कोई जोधपुरवासी असुरक्षित नहीं है और किसी भी तरह की अफवाह पर विश्वास न करें। पेश है तीर्थ यात्रियों का हाल :





हम खैरियत से हैं

गत 7 जुलाई को अमरनाथ यात्रा दर्शन के लिए गए सूरसागर सुभाष् ाचौक निवासी राहुल परिहार, हिमांशु गहलोत, प्रवीण गहलोत ने मंगलवार रात 8 बजे फोन कर सुरक्षित होने की जानकारी दी। इस पर परिजनों ने राहत की सांस ली। शशिकांत सोलंकी ने बालटाल से पत्रिका को बताया कि सेना ने नियंत्रण किया है। हमले के बाद यात्रियों की संख्या में कमी आई है।




फोन नहीं लगने से परेशान

मंडोर निवासी चन्द्रप्रकाश ने बताया कि उसके पिता संपत प्रजापत व मम्मी मीरादेवी 3 जुलाई को झालामंड से 40 यात्रियों के साथ अमरनाथ यात्रा पर गए। दो दिन पूर्व उनसे फोन पर बातचीत में बताया कि वे अमरनाथ दर्शन के लिए पहुंच चुके हैं। वहां दूसरी सिम के नम्बर भी दिए, लेकिन दो दिन से फोन पर संपर्क नहीं होने परिजन परेशान हैं।





सेना ने संभाले हालात

अमरनाथ यात्रा से मंगलवार जोधपुर लौटे युवा भूपेन्द्र कच्छवाह ने बताया कि अमरनाथ यात्रा के दौरान यदि सेना तैनात नहीं होती तो हालात बिगड़ सकते थे। श्रीनगर के साइट सीन देखने तक की मनाही है। सेना के सुरक्षा दायरे में रह कर ही अमरनाथ दर्शन संभव है।





खुली लूट पर प्रतिबंध नहीं

नागौरी बेरा मंडोर के मोहित ने बताया कि पालकी, टट्टू वालों की खुली लूट रोकने वाला नहीं है। लंगर तो बहुत हैं लेकिन मिनरल वाटर की बोतल के 40 से 50 रुपए वसूल किए जा रहे है। स्थानीय पुलिस का भी कोई सहयोग नहीं है। अमरनाथ यात्रा से लौटे भरतकुमार प्रजापति ने बताया कि यात्रियों की सुविधा के लिए भारत सरकार को कुछ कड़े कदम उठाना चाहिए।





अमरनाथ यात्रियों की हत्या के विरोध में विहिप की रैली.....

जोधपुरअमरनाथ श्रद्धालुओं की हत्या के विरोध में विश्व हिन्दू परिषद व बजरंग दल जोधपुर महानगर ने रैली निकाल कर आक्रोश जताया। विहिप कार्यालय से शाम को आरंभ हुई रैली आखलिया, बाम्बे मोटर चौराहा और पांचवीं रोड होते हुए जालोरी गेट पहुंची। रैली के बाद पाकिस्तान के झंडे व आतंकवाद का पुतला जला कर नारेबाजी की गई। विहिप पदाधिकारियों ने केन्द्र सरकार से पाकिस्तान को मुंहतोड़ जवाब देने की मांग की। विरोध प्रदर्शन सभा को विहिप प्रांत संगठन मंत्री ईश्वरलाल, महावीर अमरावत, महेन्द्र सिंह राजपुरोहित, शैलेन्द्रसिंह भदोरिया,जुगलकिशोर झंवर, संदीप गिल, यशवंत परिहार, सम्पतसिंह भाटी, सोमेन्द्र भाटी, भाजपा युवा मोर्चा जिलाध्यक्ष महेन्द्र तंवर व महेन्द्र गहलोत ने यात्रियों पर हमले की निंदा की। सम्पूर्ण क्रांति मंच के सोहन मेहता ने अमरनाथ यात्रियों पर हमले को प्रशासन की चूक और कायरता भरी हरकत बताया है।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned