जोधपुर में यूं फर्जी कॉल्स से ठगे जा रहे लोग, कहीं आप तो नहीं फंस रहे इन कॉल्स में

Jodhpur, Rajasthan, India
जोधपुर में यूं फर्जी कॉल्स से ठगे जा रहे लोग, कहीं आप तो नहीं फंस रहे इन कॉल्स में

लोगों को इनाम द बिना ब्याज के लोन के दावों से ठगा जा रह, तकनीक के साथ साइबर क्राइम भी बढ़ रहा

'हैलो, मैं बैंक (निजी बैंक) से बोल रहा हूं और आपको बैंक की ओर से बिना ब्याज 3 लाख रुपए का लोन दिया जा रहा है।' फोन सुनने वाला उस पर इंटरेस्ट नहीं दिखाता। इस पर वह जोर डालते हुए कहता है- 'ले लीजिए सर, एेसा मौका दुबारा नहीं मिलेगा।' यह एक मिसाल नहीं, शहरवासियों को फर्र्जी कॉल से फोन पर कुछ इस तरह की लुभावनी योजनाओं की जानकारियां भी दी जा रही है।


जोधपुर में ये क्या हो गया पाक विस्थापितों के साथ... कुएं से निकले तो अटक गए खाई में.. !


इस तरह के फर्जी कॉल कर लोगों को जालसाजी का शिकार बनाया जा रहा है और ठगा जा रहा है । शहर में फर्जी कॉल्स से लोगों को लोन देने के अलावा आकर्षक इनाम खुलने, बिना ब्याज लोन देने तक के दावें किए जा रहे है। इससे स्पष्ट है कि तकनीकी के साथ साइबर क्राइम दिनोंदिन बढ़ता जा रहा है।


रिश्वत में अस्मत मांगने वाले थानाधिकारी की रिकॉर्डिंग में सामने आई ये प्राइवेट चैट


केस-1


चौपासनी निवासी प्रवीण के पास निर्मल नाम के व्यक्ति का फोन आया ओर उसने खुद को निजी बैंक की दिल्ली स्थित सह शाखा का कर्मचारी बताया। उसने तीन लाख रुपए तक का लोन बिना ब्याज देने की बात कही और योजना बताई। बाद में नम्बर से उसी बैंक से राहुल मेहरा ने अपना परिचय देते हुए लोन के तीन लाख रुपए प्राप्त करने की प्रक्रिया बताई और दो फोटो, आईडी प्रूफ, एड्रेस प्रूफ, बैंक पासबुक की प्रतिलिपि, एक केन्सिल चैक और 30 हजार रुपए की पहली किश्त का चैक आदि दस्तावेज बैंक की सह शाखा के नई दिल्ली के पते पर भेजने के लिए कहा। प्रवीण के पास करीब 4-5 बार फोन आया, लेकिन सभी कॉल्स अलग-अलग नम्बरों से किए गए।


जोधपुर में यहां नियम-कायदों की उड़ रही धज्जियां, सुबह चार बजे तक चलता है ये काम


केस- 2


चौपासनी हाउसिंग बोर्ड निवासी जय सांखला के पास कुछ दिनों पहले एक कॉल आई और एक प्रतिष्ठित कंपनी का हवाला देते हुए उसे बताया गया, और उसे जानकारी दी गई कि उसके टाटा सफारी व 15 लाख 50 हजार नकद इनाम खुला है। जिस पर एक बार तो जय ने यकीन कर लिया, लेकिन बाद में ठगी के प्रयास करने की जानकारी मिलने पर उसने इस प्रकार की फर्जी कॉल्स पर यकीन करना छोड़ दिया। 

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned