पानी-पुरी बेचने वाले का ये होनहार पहुंचा आईआईटी, जोधपुर में रहकर की तैयारी

Jodhpur, Rajasthan, India
पानी-पुरी बेचने वाले का ये होनहार पहुंचा आईआईटी, जोधपुर में रहकर की तैयारी

ऑयल इंडिया की ओर से जोधपुर में संचालित सुपर-30 कार्यक्रम में पढ़ाई करने वाले सुनील कुमार ने राजस्थान पत्रिका को बताया कि वह कम्प्यूटर साइंस में बी-टैक करना चाहता है। उसने जेईई एडवांस में 366 में से 266 अंक प्राप्त किए।

गर्मियों में मेरे पिताजी आइसक्रीम का ठेला लगाते हैं और सर्दियों में पानी-पुरी बेचते हैं। उनकी यह इच्छा थी कि मैं आईआईटी में पढ़ाई करूं। आर्थिक तंगी के कारण मैंने सुपर-30 जॉइन किया और अब मैं आईआईटी के द्वार पर पहुंच गया हूं। यह कहना है जेईई एडवांस में ओबीसी श्रेणी में 115 वीं रैंक हासिल करने वाले झुंझनूं के चंवरा गांव निवासी सुनील कुमार का।


मौसम की मार झेलने वाले वन्यजीवों को बचाने के लिए पर्यावरण प्रेमी ले रहे ये प्रशिक्षण


ऑयल इंडिया की ओर से जोधपुर में संचालित सुपर-30 कार्यक्रम में पढ़ाई करने वाले सुनील कुमार ने राजस्थान पत्रिका को बताया कि जब उसने परीक्षा परिणाम के बारे में पापा शंकरलाल सैनी को फोन कर बताया तो वे खुश तो हुए लेकिन मेरी रैंक टॉप-100 में नहीं बन पाने से थोड़े नाराज भी थे। सुनील तीन भाई-बहन में सबसे बड़ा है। वह कम्प्यूटर साइंस में बी-टैक करना चाहता है। उसने जेईई एडवांस में 366 में से 266 अंक प्राप्त किए।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned