जोधपुर नगर निगम में महापौर के खिलाफ विरोध, फिर बागी हो रहे भाजपा पार्षद!

Jodhpur, Rajasthan, India
जोधपुर नगर निगम में महापौर के खिलाफ विरोध, फिर बागी हो रहे भाजपा पार्षद!

महापौर से नाराज चल रहे भाजपा खेमे के विरोधी पार्षदों ने की बैठक, शहर भाजपा जिलाध्यक्ष से मिलकर कलक्टर को देंगे अविश्वास प्रस्ताव, भाजपा के विरोधी पार्षदों को कांग्रेस का समर्थन

नगर निगम में महापौर के खिलाफ शुरू हुआ भाजपा पार्षदों के विरोध का बवाल थम नहीं रहा है। लगातार समझाइश के बाद भी महापौर से नाराज चल रहे पार्षदों ने अब फिर से अविश्वास प्रस्ताव लाने का मन बना लिया है और इस विरोध को कांग्रेस के पार्षद भी समर्थन देने की तैयारी में है। महापौर से नाराज चल रहे पार्षदों की बैठक मंगलवार को लालसागर आदर्श विद्या मंदिर के पास स्थित एक पार्षद के घर पर हुई। 


READ MORE- जोधपुर: किसानों के समर्थन में रैली निकाल रही कांग्रेस ने किया पथराव, पुलिस लाठीचार्ज में कई घायल


इस दौरान भाजपा के नाराज पार्षदों ने सर्वसम्मति से बुधवार को शहर भाजपा जिलाध्यक्ष देवेंद्र जोशी से मिलकर जिला कलक्टर को अविश्वास प्रस्ताव देने का निर्णय लिया। हालांकि भाजपा के नाराज पार्षद, पार्टी की कार्रवाई होने के डर से सामने आने से कतराते दिखे, लेकिन नाम नहीं छापने की शर्त पर कुछ पार्षदों ने दावा किया कि भाजपा के करीब 24 पार्षद महापौर के विरोध में हैं, क्योंकि पिछले डेढ़ साल के अंतराल में वार्डों में अभी तक विकास के कोई कार्य नहीं हुए हैं, वे जनता के सामने किस मुंह से जाए। इसलिए अच्छा है कि इस्तीफा दे दें। इधर कांग्रेसी पार्षद भाजपा के विरोधी खेमे को समर्थन देने की तैयारी में है। गौरतलब है कि पहले भी ऐसा हो चुका है। जब पार्षदों का दल जयपुर में पार्टी प्रदेशाध्यक्ष से मिला था और वहां तवज्जो नहीं मिलने पर लौट आया था।


READ MORE- आसाराम बापू ने चींटी तक नहीं मारी, उन्हें सताओगे तो जोधपुर में प्रलय आएगा: आसाराम समर्थक


विकास के लिए हमारा निर्णय सकारात्मक, फिर भी अंतिम निर्णय पार्टी स्तर पर

मेयर के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाने का निर्णय हम पार्टी की बैठक में करेंगे। गुरुवार को हमारी बैठक है। महापौर से नाराज चल रहे विरोधी पार्षदों से हमारी बातचीत नहीं हुई है, फिर भी विकास के लिए हमारा निर्णय इन पार्षदों के पक्ष में सकारात्मक रहेगा। लेकिन अंतिम निर्णय पार्टी की बैठक में ही होगा। -गणपत सिंह चौहान, उप नेता प्रतिपक्ष


पार्टी जो भी निर्णय लेगी, पालना करेंगे

जहां तक विकास की बात है, फंड की स्थिति सभी को पता है, बजट के अनुसार विकास के कभी कम तो कभी ज्यादा कार्य करवाए हैं। लोकतंत्र में सभी को विरोध करने का अधिकार है, लेकिन मैं पार्टी संगठन से बंधा हूं। इसलिए संगठन जो भी निर्णय लेगा, उसकी पालना करेंगे। -घनश्याम ओझा, महापौर 

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned