नसबंदी से पहले 'दर्द` के पुख्ता इंतजाम!

pawan pareek

Publish: Apr, 15 2017 01:05:00 (IST)

Jodhpur, Rajasthan, India
नसबंदी से पहले 'दर्द` के पुख्ता इंतजाम!

परिवार नियोजन के तहत सरकार नसबंदी कराने वाली महिलाओं को प्रोत्साहन राशि देने का दावा करती है, वहीं जिम्मेदारों की कथित लापरवाही के चलते राजकीय सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र देचू में नसबंदी शिविर में व्यवस्था सुधरने का नाम ही नहीं ले रही हैं।

 परिवार नियोजन के तहत सरकार नसबंदी कराने वाली महिलाओं को प्रोत्साहन राशि देने का दावा करती है, वहीं जिम्मेदारों की कथित लापरवाही के चलते राजकीय सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र देचू में नसबंदी शिविर में व्यवस्था सुधरने का नाम ही नहीं ले रही हैं।


प्रत्येक माह की 14 तारीख को अस्पताल में साईनाथ अस्पताल टीम जोधपुर की ओर से नसबंदी शिविर आयोजित किया जाता है, लेकिन हर बार अव्यवस्था हावी रहती है, जिससे नसबंदी कराने वाली महिलाओं को परेशानी होती है। 


शुक्रवार को एक दिवसीय नसबंदी शिविर आयोजित हुआ, लेकिन एक बजे तक नसबंदी कराने की टीम अस्पताल में नहीं पहुंची। पत्रिका संवाददाता ने शिविर में टेंट व पेयजल सहित अन्य व्यवस्था नहीं होने व टीम नहीं पहुंचने की बात दूरभाष पर एसडीएम शेरगढ़ को बताई।


इस दौरान देचू सरपंच प्रतिनिधि मेघसिंह भाटी भी मौके पर पहुंचे। उन्होंने चिकित्सा प्रभारी डॉ.मांगीलाल सोनी को व्यवस्थाएं सुधारने की बात कही। तब जाकर एक बजे बाद अस्पताल के पीछे टेंट व पेयजल की व्यवस्था की गई। भीषण गर्मी में महिलाएं घण्टों पसीने से तरबतर होती रही। शिविर में 60 महिलाओं का पंजीयन हुआ।


डॉ.सीपी माथुर, केल कलवाणी की टीम ने दूरबीन पद्धति से 53 महिलाओं की नसबंदी की गई। सात महिलाओं का स्वास्थ्य ठीक नहीं होने के चलते ऑपरेशन नहीं किया गया।


इनका कहना है

अस्पताल में व्यवस्था नहीं की तो यह लापरवाही हैं। मैं अभी ब्लॉक चिकित्सा अधिकारी से बात करता हूं।

-विकास राजपुरोहित, एसडीएम, शेरगढ़


कम महिलाएं आती हैं तो हम अस्पताल में काम चला देते हैं। ज्यादा आने पर टेंट व पेयजल की व्यवस्था कर देते हैं।

-डॉ मुकेश कुमार, प्रभारी, नसबंदी टीम।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned