14 पन्नों के सुसाइड नोट में लिखी 'पत्नी' की दी प्रताडऩाएं, पत्नी का लालच यूं लील गया पति की जिंदगी

Jodhpur, Rajasthan, India
14 पन्नों के सुसाइड नोट में लिखी 'पत्नी' की दी प्रताडऩाएं, पत्नी का लालच यूं लील गया पति की जिंदगी

पत्नी रोज रुपयों की मांग करती, प्रॉपर्टी अपने नाम चाहती थी... अलग-अलग तरीकों से पति को प्रताडि़त करती.. आखिर एक दिन पति का सब्र टूट गया... 14 पन्नों के सुसाइड नोट में उसने दो साल की शादी में जो भी सहा, लिख डाला और खुद को इनसे मुक्त करने के लिए खौफनाक कदम उठा लिया..

पत्नी व ससुराल वालों की प्रताडऩा से व्यथित एक युवक ने गुरुवार को फंदा लगा जान दे दी। पत्नी की तरफ से दर्ज प्रताडऩा के मामले में कुछ घंटे बाद ही कोर्ट में चालान पेश होना था। चौदह-पन्द्रह पेज के सुसाइड नोट के आधार पर नागौरी गेट थाने में पत्नी व सास सहित चार के खिलाफ आत्महत्या को दुष्प्रेरित करने का मामला दर्ज किया गया है।

READ MORE: जोधपुर में हुई दिल दहला देने वाली घटना, सोती हुई पत्नी की छाती पर पत्थर के प्रहार से ली जान

एसआई झूमरराम के अनुसार जालोरियों का बास रामचौक निवासी देवेन्द्रसिंह (28) व उसके पिता शिवसिंह सांखला सुबह घर में ही थे। देेवेन्द्र काफी देर तक कमरे से बाहर नहीं आया तो वृद्ध पिता ने उसे आवाज लगाई, लेकिन जवाब नहीं मिला। पड़ोसियों ने धक्का देकर कमरे का दरवाजा खोला तो देवेन्द्र रस्सी के फंदे से पंखे के हुक पर लटक रहा था। उसकी मृत्यु हो चुकी थी। पुलिस मौके पर पहुंची और शव महात्मा गांधी अस्पताल की मोर्चरी भिजवाया, जहां पोस्टमार्टम के बाद परिजन को सौंपा गया। तीन बहनों के बीच देवेन्द्र एकमात्र भाई था और परिवार का एकमात्र सहारा था। वह मोबाइल की एक दुकान पर काम करके गुजर-बसर कर रहा था। बहनों की शादी हो चुकी है।

READ MORE: राजस्थान में फेल हुआ नाभा जेल ब्रेक का 'सीक्वल', दीवार फांदते वक्त तीन बंदी करंट से झुलसे, एक गंभीर

आरोप : सास ने ही दिया था फंदा

देवेन्द्र की 28 नवम्बर 2014 को काजल से शादी हुई थी, लेकिन दोनों के बीच शुरू से ही अनबन रही। 1 मई को दोनों के पुत्र हुआ था। सुसाइड नोट में उसने पत्नी काजल, सास, साला व मामी ससुर सुरेन्द्रसिंह परिहार को जिम्मेदार ठहराया है। उसका आरोप है कि जिस फंदे से वह लटका था, वह फंदा सास ने ही दिया था। उसका आरोप है कि शादी के बाद से पत्नी उसे प्रताडि़त करती थी। वह आए दिन रुपए मांगने के साथ मकान का पट्टा अपने नाम करवाने की मांग करती थी।

READ MORE: जेल में खुले आम चल रहा 'साजिश' का 'खेल'

READ MORE: एेसा क्या हुआ कि पांच दिन में बनी और सात दिन में उधड़ गई सड़क

पत्नी का आरोप, मारपीट कर निकाला था घर से

इससे पहले पुलिस कमिश्नर को पेश परिवाद के आधार पर गत 13 अक्टूबर को मृतक की पत्नी काजल ने महिला थाना (पूर्व) में पति देवेन्द्र, ननद अंजू, गुडि़या, पीयूष, पूनम, रामप्रताप व चंचल के खिलाफ प्रताडऩा का मामला दर्ज करवाया था। जांच अधिकारी उप निरीक्षक शम्भूसिंह ने पति को दोषी माना था व गुरुवार को उसके खिलाफ चालान पेश किया जाना था।फांसी का पता लगते ही मोहल्लेवासी मोर्चरी के बाहर जमा होने लग गए और रोष जताने लगे। उन्होंने मृतक की पत्नी व ससुराल पक्ष पर कार्रवाई की मांग की। 

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned