पहले दिन ही व्यवस्थाएं चौपट

dinesh sharma

Publish: Jun, 20 2017 12:00:00 (IST)

karauli
पहले दिन ही व्यवस्थाएं चौपट

करौली. ग्रीष्मकालीन अवकाश के बाद खुले जिला मुख्यालय के सरकारी स्कूलों में पहले दिन ही व्यवस्थाएं चौपट रही। जिससे पोषाहार का वितरण नहीं होने से विद्यार्थियों को भूखा लौटना पड़ा। इसके अलावा, बिजली, पानी तथा शिक्षकों के डेपुटेशन पर रहने की समस्या का समाधान भी अधिकारी नहीं कर पाए।

करौली. ग्रीष्मकालीन अवकाश के बाद खुले जिला मुख्यालय के सरकारी स्कूलों में पहले दिन ही व्यवस्थाएं चौपट रही। जिससे पोषाहार का वितरण नहीं होने से विद्यार्थियों को भूखा लौटना पड़ा। इसके अलावा, बिजली, पानी तथा शिक्षकों के डेपुटेशन पर रहने की समस्या का समाधान भी अधिकारी नहीं कर पाए। सरकार ने स्कूल खुलने से पहले बेहतर व्यवस्था करने के आदेश जारी किए थे, लेकिन जिला मुख्यालय पर ही इन आदेशों की पालना नहीं हो सकी। इससे डांग क्षेत्र के स्कूलों के हालातों का अंदाजा लगाया जा सकता है। 

खाद्यान का टोटा, बिजली कनेक्शन कटे

राजस्थान पत्रिका की टीम ने राजकीय उच्च प्राथमिक स्कूल शिकारगंज नम्बर छह का सुबह के समय जायजा लिया। जहां पर विद्यार्थी एक बरामदे में खेलते मिले तथा कुछ सफाई कार्य कर रहे थे। संस्थाप्रधान गोविन्द शर्मा ने बताया कि अप्रेल माह से खाद्यान नहीं मिला है। जिससे पोषाहार तैयार नहीं हुआ है। 

इसके बाद राजकीय उच्च प्राथमिक स्कूल नम्बर चार (मेला गेट) गए तो वहां पर पोषाहार का वितरण नहीं मिला। स्कूल में 99 विद्यार्थियों के नामांकन पर मात्र दो अध्यापिका कार्यरत है। सफाई तथा बिजली की व्यवस्था भी ठप मिली। इसी प्रकार राजकीय उच्च प्राथमिक स्कूल नम्बर दो पर भी पोषाहार नहीं पकाया गया।  स्कूल के संस्थाप्रधान ने जानकारी दी कि  विद्युत बिल जमा नहीं होने से कनेक्शन कट गया है। प्राथमिक स्कूल गोपालसिंह की छतरी के सामने में पोषाहार का वितरण नहीं किया गया।


Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned