OMG! 54 छात्राओं की स्कूटी कॉलेज प्रशासन ने कमरे में कर दी बंद...जानिए क्या है वजह

shailendra tiwari

Publish: Jun, 17 2017 12:14:00 (IST)

Kota, Rajasthan, India
OMG! 54 छात्राओं की स्कूटी कॉलेज प्रशासन ने कमरे में कर दी बंद...जानिए क्या है वजह

सरकारी स्कूलों में कक्षा 9वीं से 12वीं तक पढ़कर 75 प्रतिशत से अधिक अंक लाने वाली मेधावी छात्राओं को देवनारायण योजना के तहत स्कूटी दी जाती है, लेकिन तीन माह से जेडीबी कॉलेज के एक बंद कमरे में स्कूटी देने की यह योजना 'दौड़ रही है।

सरकारी स्कूलों में कक्षा 9वीं से 12वीं तक पढ़कर 75 प्रतिशत से अधिक अंक लाने वाली मेधावी छात्राओं को देवनारायण योजना के तहत स्कूटी दी जाती है, लेकिन तीन माह से जेडीबी कॉलेज के एक बंद कमरे में स्कूटी देने की यह योजना 'दौड़ रही है। 


Read More:  कोटा में कांग्रेस ने सरकार के खिलाफ भरी हुंकार


अब तक छात्राओं को इनका वितरण नहीं किया गया है। कमरे में देवनारायण योजना की 11 व मेधावी छात्राओं की 54 स्कूटी पड़ी हैं। जानकारी के अनुसार, यह स्कूटी 20 मई को कॉलेज आ गई थी। पहले यह एक कमरे में रखी थी। बाद में उन्हें पुराने हॉस्टल के पास बने कमरे में रखवाया गया।


Read More: थैंक्स मोदी अंकल! ट्वीट करते ही अनाथ बच्चों के लिए भेज दी इतनी बड़ी मदद


दो स्कूटी का कोई धणी-धोरी नहीं

यहां कमरे में दो स्कूटी एेसी भी हैं, जिनका कोई धणी-धोरी नहीं है। इन स्कूटियों को दो साल बाद भी कोई लेने नहीं आया। इनके टायर तक जवाब दे चुके हैं। कॉलेज प्रशासन से इनके बारे में पूछा तो बताया कि दो छात्राओं के लिए यह स्कूटी आई थी, लेकिन वह टीसी लेकर चली गई।


Read More: वो कौन थी! जिसकी वजह से शादी के पांच महीने बाद ही पत्नी ने लगा लिया मौत को गले


स्कूटी पहले ही देर से पहुंची। पंजीयन के लिए परिवहन विभाग को दस्तावेज भेज रखे हैं। वहां रजिस्टे्रशन पोर्टल अपडेट नहीं हुआ है। पंजीयन दस्तावेज आते ही समारोह कर इन्हें वितरित किया जाएगा।

रीटा गुलाटी, प्राचार्य, साइंस कन्या कॉलेज

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned