बैंक ने की किसानों से धोखाधड़ी, वसूला लाखों का ब्याज

Jhalawar, Rajasthan, India
बैंक ने की किसानों से धोखाधड़ी, वसूला लाखों का ब्याज

झालावाड़ केंद्रीय सहकारी बैंक की भवानी मंडी शाखा में सहकारिता विभाग के नुमाइंदे दस्तावेजों में उलट-फेर कर किसानों को लूट रहे हैं।

सहकारिता विभाग के नुमाइंदे किस प्रकार दस्तावेजों में उलट-फेर कर किसानों को लूट रहे हैं। इसका एक मामला सामने आया झालावाड़ जिले के केंद्रीय सहकारी बैंक की भवानी मंडी शाखा का। 


इस बैंक शाखा में राज्य सरकार द्वारा स्वीकृत किसानों के हिस्से की आपदा प्रबंधन की सहायता राशि जमा थी। जो बैंक प्रबंधन ने निर्धारित समय पर किसानों के खातों में जमा नहीं कराई। राशि जमा कराने की तिथि निकलने के बाद बैंक प्रबंधन ने अक्टूबर 216 से मार्च 2017 तक की अवधि किसान क्रेडिट कार्ड व अल्प अवधि ऋण के नाम से किसान के खाते में जमा कर दी। और उसी दिन किसान के बचत खाते में नामे लिखकर आपदा प्रबंधन के खाते में जमा कर दी। 


जब किसान बैंक बाद में किसानों से ऋण का दो रुपए प्रति सैकड़ा के हिसाब से ब्याज वसूली की गई। मामला उजागर होने के बाद किसान प्रतिनिधियों ने बैंक प्रबंधन के खिलाफ सहकारिता विभाग के मंत्री व रजिस्ट्रार से शिकायत कर जांच दोषी बैंक कर्मचारी अधिकारियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की है।



Read More: खुद ने ही उजड़वाया अपना सुहाग



बिना जमीन-लिमिट के बांट दिए 162.34 लाख

भाजपा किसान मोर्चा के प्रदेश मंत्री रमेश पाटीदार ने आरोप लगाया कि बैंक मैनेजर व स्टाफ ने चार साल पूर्व बिना जमीन-लिमिट के 162.34 लाख के ऋण बांट दिए। वहीं किसानों के फर्जी हस्ताक्षर कर किसानों के नाम 380.51 लाख रुपए खाते में चढ़ा दिए।



Read More: कृषि मंत्री पर भड़के राजावत, कहा- 'प्रभु' समय पर आया करो, जनता परेशान होती है



दिन में जमा, शाम को निकासी

किसान प्रतिनिधि कालूराम वर्मा ने बताया कि बैंक प्रबधन ने आपदा प्रबंधन की राशि किसानों के खाते में दिन में जमा होना दर्शा दिया। वहीं शाम को निकासी करना बता दिया, जबकि सहकारिता बैंक या अन्य बैंकों का नियम है कि किसान क्रेडिट कार्ड या अल्प अवधि ऋण राशि खाते में जमा होने के बाद दूसरे दिन निकासी हो सकती है। एक दिन तो जमा राशि बैंक के कोष में जमा होती है।



Read More:बकरियां चराने गई बालिका के साथ जंगल में रेप



कोटा सहकारिता विभाग, अतिरिक्त रजिस्ट्रार जी.एस. मीणा कहना है कि झालावाड़ केंद्रीय सहकारी बैंक की भवानीमंडी शाखा में अनियमितता की शिकायत मिली है। बैंक का चार्ज उप रजिस्ट्रार के पास है। जिससे भवानीमंडी शाखा का रिकार्ड तलब किया है। रिकार्ड जांच करने के बाद ही घोटाले का पता लग पाएगा। जांच में अगर बैंक प्रबंधन दोषी पाया गया तो उनसे वसूली की जाएगी।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned