इनका क्या कसूर जो मारे गए, 70 अर्थियों को लेकर निकाली रैली

shailendra tiwari

Publish: Dec, 01 2016 08:09:00 (IST)

Kota, Rajasthan, India
इनका क्या कसूर जो मारे गए, 70 अर्थियों को लेकर निकाली रैली

50 फीसदी टैक्स देकर कालेधन को सफेद करने के निर्णय का विरोध

कोटा. कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने गुरुवार को कांग्रेस सामाजिक न्याय एवं आधिकारिता विभाग के प्रदेशाध्यक्ष क्रांति तिवारी की अगुवाई में नोटबंदी के बाद कालेधन में से आधा सरकार के पास जमा कराकर आधा सफेद करने के निर्णय का अनोखे ढग़ से विरोध किया। 


कालेधन पर 50 फीसदी टैक्स चुकाकर सफेद करने के केन्द्र सरकार के निर्णय के विरोध में कार्यकर्ता बैंकों की लाइनों में लगते हुए तो कहीं जरूरत के समय राशि नहीं निकाल पाने के गम में मारे गए लोगों की प्रतिकात्मक 70 अर्थियां लेकर सड़क पर उतरे। 


अर्थियां हाथों में उठाकर सीएडी सर्किल से पैदल रैली के रूप में खामोशी के साथ घोड़ा वाला चौराहे पहुंचे। यहां तिवारी ने कहा कि कालाधन रखने वालों को किसी भी सूरत में बख्शा नहीं जाए। 


सरकार ने नोटबंदी कर गरीब लोगों को मुसीबत में डाल दिया। कुछ लोग कतारों में खड़े-खड़े ही मर गए। देश के लोग मान रहे थे कि इस फैसले से कालाधन रखने वाले मुसीबत में आएंगे, लेकिन सरकार ने 50 फीसदी राशि टैक्स के रूप जमा कराकर 50 फीसदी को सफेद करने का फैसला कर लिया। यदि एेसा ही करना था तो इतने लोगों को बेकार में ही अपनी जान देनी पड़ी। कांग्रेस इसके विरोध में सड़क पर उतरेगी।


अर्थियों की बेकद्री

कार्यकर्ताओं के लिए सीएडी सर्किल पर टै्रक्टर ट्रॉली में 70 अर्थियां भरकर लाई गई। अर्थियों को चार कार्यकर्ता उठाते, लेकिन इतने कार्यकर्ता मौजूद नहीं होने से एक अर्थी को दो कार्यकर्ताओं के हवाले किया गया। 


सीएडी से एरोड्रम सर्किल तक पैदल चलकर यहां बैंकों के सामने अर्थियां रखकर प्रदर्शन का कार्यक्रम निर्धारित था, लेकिन इतनी दूरी तक कार्यकर्ता पैदल चलने के मूड में नजर नहीं आए। 


रास्ते में कार्यकर्ताओं ने अर्थियां सड़क पर फेंक दी, उनके बीच शवों के रूप में भरी गई घास भी सड़क पर बिखर गई, जिन पर होकर वाहन गुजरते रहे। घोड़ा चौराहे के पास तक करीब आधे कार्यकर्ता अर्थियों को छोड़ लौट चुके थे। एेसे में वहीं रैली समाप्त कर दी गई।


यातायात बाधित, परेशान हुए लोग

रैली के रूप में अर्थियों के साथ रवाना होने से पूर्व कांग्रेस कार्यकर्ता सीएडी सर्किल पर एकत्रित हुए। इसके बाद यहां से रवाना हुए तो सीएडी चौराहे पर जाम लग गया। रास्ते में कार्यकर्ता सड़क घेरकर चल रहे थे, इससे एक तरफ का रास्ता जाम हो गया और लोगों को परेशानी हुई।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned