अब चेहरा बताएगा की आप ड्यूटी पर हो या नहीं, गारंटी! बच नहीं पाओगे...

shailendra tiwari

Publish: Jul, 11 2017 08:09:00 (IST)

Kota, Rajasthan, India
अब चेहरा बताएगा की आप ड्यूटी पर हो या नहीं, गारंटी! बच नहीं पाओगे...

सरकारी अस्पतालों में अंगूठे के जरिए होने वाली बायोमेट्रिक उपस्थिति की विभाग की मंशा सिरे नहीं चढऩे के बाद अब विभाग ने कार्मिकों की उपस्थिति के लिए नई कवायद शुरू की है। चिकित्सा संस्थाओं में अब चिकित्सकों एवं अन्य कार्मिकों की उपस्थिति चेहरे से होगी।

सरकारी अस्पतालों में अंगूठे के जरिए होने वाली बायोमेट्रिक उपस्थिति की विभाग की मंशा सिरे नहीं चढऩे के बाद अब विभाग ने कार्मिकों की उपस्थिति के लिए नई कवायद शुरू की है। चिकित्सा संस्थाओं में अब चिकित्सकों एवं अन्य कार्मिकों की उपस्थिति चेहरे से होगी। इसके लिए जल्द सभी चिकित्सा संस्थाओं में विभाग की ओर से फेस रीडिंग मशीनें लगाई जाएंगी। 


Read More: कोटा के मंदिर में दलित लड़कियों को पूजा करने से रोका


सांगोद ब्लॉक में 15 जुलाई से सभी चिकित्सा संस्थाओं में फेस रीडिंग मशीनें लगाकर उपस्थिति शुरू करवाने की विभाग ने तैयारी शुरू कर दी है। सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों के साथ प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों में भी यह मशीने लगाई जाएंगी। 


Read More: आपबीतीः अमरनाथ यात्रा पर आतंकी हमले के बाद पहलगाम में फंसे कोटा के श्रद्धालु


जानकारी के अनुसार कुछ माह पहले ही विभाग ने सभी चिकित्सा संस्थाओं में बायोमैट्रिक उपस्थिति मशीनें लगाई थी लेकिन कभी मशीनों के काम नहीं करने तो कभी कार्मिकों के अंगूठे व अंगुलियों का मिलान नहीं होने से कार्मिकों को भी उपस्थिति में परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। अब चिकित्सा एवं स्वास्थ्य निदेशालय ने इन मशीनों को कारगर नहीं मानते हुए चिकित्सा संस्थाओं में फेस रीडिंग मशीन लगाने का निर्णय लिया है।  


Read More: कृषि मंत्री पर भड़के राजावत, कहा- 'प्रभु' समय पर आया करो, जनता परेशान होती है


यूं काम करती है मशीन

फेस रीडिंग मशीन में अंगुली या अंगूठे के बजाय कार्मिक को मशीन के सामने खड़ा होकर अपना चेहरा दिखाना होगा। मशीन में चेहरे की स्क्रेनिंग होगी तथा चेहरे का मिलान होने पर ही कार्मिक की उपस्थिति दर्ज होगी। विभाग का मानना है कि इससे थम्ब बायोमैट्रिक में होने वाली गड़बडिय़ों से भी निजात मिलेगी। 

Read More:  हैंगिंग ब्रिज उद्घाटन में देरी ने बेटियों के सिर से उठाया पिता का साया


कर ली है तैयारी

सामुदायिक एवं प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों में फेस रीडिंग मशीनें लगेंगी। इसकी पूरी तैयारी कर ली है। 15 जुलाई से उपस्थिति इन मशीनों से ही होगी। 

डॉ. प्रभाकर व्यास ब्लॉक चिकित्साधिकारी 

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned