900 रुपए की एलईडी 3490 रुपए में टिकाई, पंचायतों को 90 लाख की चपत

shailendra tiwari

Publish: Mar, 21 2017 11:50:00 (IST)

Kota, Rajasthan, India
900 रुपए की एलईडी 3490 रुपए में टिकाई, पंचायतों को 90 लाख की चपत

जिले की ग्राम पंचायतों में एलईडी लाइटों की आपूर्ति करने में घालमेल सामने आया है। 29 ग्राम पंचायतों को करीब 90 लाख की चपत लगी है।

जिले की ग्राम पंचायतों में एलईडी लाइटों की आपूर्ति करने में घालमेल सामने आया है। एक कम्पनी ने 900 से1000 रुपए की एलईडी को जिले की ग्राम पंचायतों को 3490 रुपए में आपूर्ति कर दिया है। इससे 29 ग्राम पंचायतों को करीब 90 लाख की चपत लगी है। 


जिला परिषद की प्रारम्भिक जांच में यह खुलासा हुआ है। सीईओ ने जिले की सभी ग्राम पंचायतों में एलईडी आपूर्ति के मामले की विस्तृत जांच करने के आदेश दिए हैं। 


एसीईओ श्वेता फगेडि़या ने बताया कि  एलईडी की आपूर्ति का ठेका हासिल करने के लिए फर्जी कम्पनी का गठन किया और झालावाड़ स्थित इलेक्ट्रिक सोल्यूशन कम्पनी को जयपुर में दर्शा दिया। इसी पते से टेण्डर प्रक्रिया में भाग लिया और ग्राम पंचायतों को एलईडी की आपूर्ति का टेण्डर हासिल कर लिया है। अब तक की जांच में करीब 90 लाख रुपए का घालमेल सामने आया है। जिस एलईडी लाइट की बाजार कीमत 900 रुपए है, उसे 3490 में आपूर्ति किया गया है।


एेसे पकड़ा फर्जीवाड़ा 

केन्द्र सरकार की रेट कान्टे्रक्ट डॉयरेक्ट्रेट  जनरल ऑफ सप्लाइज एण्ड डिसपोजल्स से देश में निविदा प्रक्रिया जारी होती  है। फर्जी कम्पनी ने वैट पंजीयन नम्बर लेकर निविदा प्रक्रिया में भाग लिया। कम्पनी ने कोटा जिले में 29 ग्राम पंचायतों में एलईडी स्ट्रीट लाइटें विक्रय की। कम्पनी ने 30 व 48 वॉल्ट की लाइटों की आपूर्ति कर दी। 



एसीईओ ने बताया कि पिछले दिनों उन्होंने जुल्मी ग्राम पंचायत का दौरा किया तो एलईडी के बिल और बाउचर देखे। इसमें गड़बड़ी की आशंका लगी। उन्होंने डीजीएसएनजी के कम्पनी के रजिस्ट्रेशन नम्बर की जानकारी ली तो इस नाम की जयपुर की कोई फर्म पंजीकृत नहीं होना पाया गया। कम्पनी ने जो पता दिया है, वहां भी उस नाम की कोई फर्म नहीं मिली। वाणिज्यिक कर विभाग से वैट पंजीयन नम्बर का भी रजिस्ट्रेशन नहीं है। अब विभाग फर्म के खिलाफ विधिक कार्रवाई की तैयारी में है।


यहां लगाई एलईडी 

ग्राम पंचायत खैराबाद, चेचट, मोड़क व जुल्मी समेत 24 ग्राम पंचायत व सांगोद पंचायत समिति की मोरुकलां, सावनभादौ, आवां, दांता, जालिमपुरा ग्राम पंचायतों में एलईडी स्ट्रीट लाइटें लगाई गई। 


एलईडी स्ट्रीट लाइट में घोटाला सामने आया है। जांच  प्रक्रिया अभी चल रही है। उसी आधार पर कम्पनी के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज करवाएंगे। 

जुगलकिशोर मीणा, सीईओ, जिला परिषद


Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned