बुनकरों को मुफ्त में पढ़ाएगी सरकार, इग्नू से किया करार

Kota, Rajasthan, India
बुनकरों को मुफ्त में पढ़ाएगी सरकार, इग्नू से किया करार

कोटा डोरिया बुनकरों समेत देशभर के दस्तकारों के लिए खुश खबर है कि केन्द्र सरकार उनके बच्चों को नि:शुल्क शिक्षा देगी। शिक्षा का पूरा खर्च सरकार वहन करेगी। इसके लिए इंदिरा गांधी राष्ट्रीय मुक्त विश्वविद्यालय (इग्नू) और केन्द्रीय कपड़ा मंत्रालय के बीच समझौता हुआ है।

कोटा डोरिया बुनकरों समेत देशभर के दस्तकारों के लिए खुश खबर है कि केन्द्र सरकार उनके बच्चों को नि:शुल्क शिक्षा देगी। शिक्षा का पूरा खर्च सरकार वहन करेगी। इसके लिए इंदिरा गांधी राष्ट्रीय मुक्त विश्वविद्यालय (इग्नू) और केन्द्रीय कपड़ा मंत्रालय के बीच समझौता हुआ है। इसके तहत इग्नू देश के सभी बुनकरों और उनके बच्चों को नि:शुल्क उच्च शिक्षा देगा। इग्नू के साथ मिलकर देश के बुनकरों को शिक्षित करने की योजना तैयार की गई। 


इग्नू क्षेत्रीय केंद्र के सहायक क्षेत्रीय निदेशक एवं प्रवेश प्रभारी कमलेश मीना ने बताया कि इग्नू देश के सभी पंजीकृत बुनकरों और उनके बच्चों के लिए नि:शुल्क दूरस्थ उच्च शिक्षा देगा। इग्नू विश्वके सबसे बड़े विश्वविद्यालयों में शामिल है। इंदिरा गांधी राष्ट्रीय मुक्त विश्वविद्यालय तथा इंदिरा गांधी राष्ट्रीय मुक्त विश्वविद्यालय राजस्थान के चार जिलों में पंजीकृत हैंडलूम बुनकर और उनके आश्रितों को नि:शुल्क उच्च शिक्षा के प्रवेश के लिए शिविर लगाए जाएंगे।


कैथून में लगेगा शिविर


इस योजना के तहत राजस्थान के चार जिलों का चयन हुआ है। इसमें कोटा जिले में कैथून नगर पालिका, झालावाड़ जिले में रायपुर पंचायत समिति और बारां में मांगरोल तथा दौसा जिले में लवाण पंचायत समिति का चयन किया गया है। इग्नू के जुलाई 2017 सत्र में प्रवेश के लिए पहला प्रवेश कैंप कैथून नगरपालिका में 26 मार्च को सुबह 10 बजे से शाम 4 बजे तक लगाया जाएगा।



शिक्षा से जोड़ेंगे


देश के दस्तकारों और बुनकरों को एजुकेशन प्रोग्राम से जोडऩे के उद्देश्य से इग्नू की ओर से विशेष कार्य योजना तैयार की गई है। इसके तहत न सिर्फ बुनकरों को सामान्य शिक्षा दी जाएगी, बल्कि उन्हें और उनके परिवार के सदस्यों को हायर एजुकेशन प्रोग्राम से भी जोड़ा जाएगा।



राज्य में तीन हजार बुनकर जुड़ेंगे

राज्य में तीन हजार बुनकरों को इस प्रोग्राम से जोड़ा जाएगा। इग्नू जयपुर की ओर से संबंधित जिला प्रशासन में बात की जा रही है। प्रशासन की मदद से साथ ही इग्नू वहां के क्राफ्टमैन को एजुकेशन प्रोग्राम से जोड़ पाएगा। इस प्रोगाम के तहत न सिर्फ बुनकरों को यह एजुकेशन पूरी तरह से नि:शुल्क दी जाएगी, बल्कि उनके परिवार के सदस्यों को भी इस स्कीम के तहत शिक्षा का जिम्मा इग्नू ने उठाया है।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned