बुलेट ट्रेन से भी तेज दौड़ी कोटा कोचिंग की धड़कनें...आ रहा है वो...

shailendra tiwari

Publish: Jun, 11 2017 08:01:00 (IST)

Kota, Rajasthan, India
बुलेट ट्रेन से भी तेज दौड़ी कोटा कोचिंग की धड़कनें...आ रहा है वो...

जेईई एडवांस परीक्षा का परिणाम रविवार को जारी होगा। आईआईटी मद्रास इसकी तैयारियों में जुटा है। उत्तीर्ण होने वाले विद्यार्थियों को वरीयता के अनुसार विभिन्न आईआईटी में प्रवेश मिलेंगा।

रविवार का दिन कोटा कोचिंग इंडस्ट्री के लिए अहम होगा, जो एक बार फिर से इंजीनियरिंग व मेडिकल एंट्रेन्स एग्जाम में कोटा की साख को और मजबूत बनाएगा। जेईई एडवांस का रिजल्ट जारी होने से पूर्व शनिवार को दिनभर कोचिंग संस्थानों में हलचल रही। 


Read More:  Slides: बच्चों के भविष्य के लिए देश के कोने-कोने से कोटा पहुंचे हजारों अभिभावक 


जेईई की रिवाइज आंसर की जारी होने के बाद सभी संस्थानों ने अपने स्टूडेंट्स टॉप-3, 5 एवं 10 में आने के दावे किए। इन सबके बीच कोटा से कोचिंग करने वाले सूरज को देश में टॉप-3 में आने की उम्मीद है।


Read More:  साहब, ट्रक में बीज है क्या देखना, चैक किया तो मिली लाखों की शराब


स्मार्टफोन से दूर रहा

सूरज ने बताया कि वह साधारण परिवार से है, इसलिए उसे महंगे खाने-पहनने का शौक नहीं रहा। मैं शॉपिंग के पीछे किराए के कमरे में रहा, लेकिन दो साल में कभी मॉल नहीं गया। दोस्तों ने पूछा भी, लेकिन फिल्म से भी दूर रहा। अकेले में पढ़ाई से मन नहीं भटके, इसलिए स्मार्ट फोन भी नहीं लिया। घर में बहनों की शादी में केवल दो बार घर जाना हुआ। टीचर्स ने पूरा सपोर्ट किया। कोचिंग के अलावा 10 घंटे पढ़ाई की। पेपर अच्छा हुआ, टॉप थ्री में आने की उम्मीद है।


Read More:  राजस्थान के इस बड़े अस्पताल में खत्म हुई ऑक्सीजन, उखड़ने लगी मरीजों की सांस


330 से 339 के बीच स्कोर की उम्मीद 

वाइब्रेंट एकेडमी के छात्र सूरज ने पेपर का एनालिसिस किया गया तो उसे कुल 366 अंकों में 330 से 339 के बीच स्कोर की उम्मीद है। सूरज ने दो साल कोटा में पढ़ाई की है। इस दौरान सूरज सिर्फ दो बार घर गया। त्योहार पर भी घर नहीं गया। 

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned