Rudraksh murder case: अदालत की नाराजगी के बाद अनूप को अजमेर से कोटा लाई पुलिस, गवाहों के बयान हुए दर्ज

shailendra tiwari

Publish: Apr, 13 2017 08:30:00 (IST)

Kota, Rajasthan, India
Rudraksh murder case: अदालत की नाराजगी के बाद अनूप को अजमेर से कोटा लाई पुलिस, गवाहों के बयान हुए दर्ज

रुद्राक्ष अपहरण व हत्याकांड मामले में अदालत की नाराजगी के बाद आरोपित अनूप पाडि़या को गुरुवार को अजमेर जेल से लाया गया।

रुद्राक्ष अपहरण व हत्याकांड मामले में अदालत की नाराजगी के बाद आरोपित अनूप पाडि़या को गुरुवार को अजमेर जेल से लाया गया। अनूप व उसके भाई की मौजूदगी में एक गवाह के बयान हुए। अब तक इस मामले में 103 गवाहों के बयान हो चुके हैं।


Read More: रुद्राक्ष हत्याकांड : दो महिलाओं के हुए बयान


जेल में वसूली मामले में जेलर बत्तीलाल मीणा के साथ एसीबी की गिरफ्त में आए आरोपित अनूप पाडि़या को भ्रष्टाचार निवारण न्यायालय के आदेश से अजमेर स्थित सेंट्रल जेल भेजा गया था। इस कारण उसे 11 व 12 अप्रेल को रुद्राक्ष हत्याकांड की सुनवाई में पेश नहीं किया गया। आरोपितों के वकील ने अदालत से प्रार्थना की कि उनकी मौजूदगी के बिना गवाहों के बयान दर्ज नहीं करवाए जाएं। इस पर अदालत ने जेल अधीक्षक को निर्देश दिए कि हर पेशी पर दोनों आरोपित अंकुर व अनूप को पेश किया जाए। 


Read More: खुलासा: कैमरे बंद कर मिलते थे अनूप और जेलर


अदालत के आदेश की पालना में अनूप को कड़ी सुरक्षा के बीच अजमेर जेल से कोटा लाया गया, वहीं अनूप को कोटा जेल से पेश किया। विशिष्ट लोक अभियोजक कमलकांत शर्मा ने बताया कि गुरुवार को इस मामले में जवाहर नगर थाने के तत्कालीन थानाधिकारी व हाल उप अधीक्षक पुलिस मुख्यालय जयपुर हरिचरण मीना के बयान दर्ज किए गए। 


रुद्राक्ष हत्याकांड : बालिका समेत 3 गवाहों के हुए बयान


रुद्राक्ष के अपहरण से लेकर उसकी लाश बरामद करने और मौका नक्शा बनाने तक का कार्य उन्होंने ही किया था। इधर, आरोपितों के वकील ने उनसे जिरह भी की। शर्मा ने बताया कि मामले में अब तक 110 में से 103 गवाहों के बयान हो चुके हैं। अब 24 से 26 अप्रेल तक सुनवाई होगी। इस दौरान शेष रहे गवाहों को बयान के लिए तलब किया गया है। पेशी के बाद सुरक्षा गार्ड अनूप को फिर से अजमेर जेल ले गए।


Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned