जल्द शुरू होगी तेजस, कोटा होकर गुजरा खाली रेक

Kota, Rajasthan, India
जल्द शुरू होगी तेजस, कोटा होकर गुजरा खाली रेक

निकट भविष्य में तेजस ट्रेन का परिचालन शुरू होगा। इसका खाली रेक शुक्रवार रात को कोटा जंक्शन से गुजरा। कोटा में जिसने भी इस रेक को देखा उसके मुहं से यही निकला अरे वाह, क्या ट्रेन है। हर कोई यह जानना चाह रहा था कि यह ट्रेन कहां से कहां तक चलेगी।

शुक्रवार रात को कोटा जंक्शन से तेजस का खाली रेक गुजरा। इससे पहले दिल्ली में रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने इसका निरीक्षण किया। तेजस एक्सप्रेस एक सेमी हाई स्पीड ट्रेन है। जिसमें अत्याधुनिक सुविधाएं एवं यात्रियों के आरामदेह सफर के लिए बेहतर इंतजाम है। 





तेजस के डिब्बों का निर्माण कपूरथला स्थित रेल कोच फैक्टरी में किया गया है। इसके अभिनव डिजाइन वाले डिब्बे 200 किलोमीटर प्रति घंटे की गति से दौडऩे में सक्षम हैं, लेकिन रेल की पटरियों में निहित सीमाओं के चलते ये डिब्बे 160 किलोमीटर प्रति घंटे की गति से ही दौड़ पाएंगे। स्टील ब्रेक डिस्क, सिंटर्ड पैड, इलेक्ट्रो-नयूमैटिक एसिस्ट ब्रेक सिस्टम की सहायता से 200 किलोमीटर प्रति घंटे की गति क्षमता हासिल की गई। इस ट्रेन का मुंबई से गोवा के बीच परिचालन किया जाना प्रस्तावित है। संभवत: 22 मई को इसे हरी झंडी दिखाई जाएगी।



Read More: बाल संरक्षण आयोग की अध्यक्ष पहुंच गई गांजा सप्लायर को पकड़ने



19 कोच का रेक है

16 नॉन एक्जीक्यूटिव एवं दो एक्जीक्‍यूटिव चेयर कार और एक पावर कोच समेत 19 डिब्बों के साथ पहला रेक तैयार किया गया है। एक एक्जीक्यूटिव कोच को आगे चलकर एक स्‍मार्ट कोच में तब्दील कर दिया जाएगा। जिसमें कुछ अतिरिक्त सुविधाएं होंगी।



Read More: कोटा में बंद होंगे डमी स्कूल, कोचिंग संस्थानों पर कसा शिकंजा



तेजस ट्रेन की खास बातें

बायो-वैक्यूम शौचालय, पानी की कम खपत और स्वच्छ जल स्तर संकेतक टचलेस वाटर टैप, साबुन मशीन, संगमरमर की नक्काशी वाली भित्तिचित्र रोधी कोटिंग, हैंड ड्रायर, नए डिजाइन वाले कूड़ेदान विनाइल युक्त विशेष रूप से डिजाइन किए गए बाहरी हिस्से, स्वचालित प्रवेश प्लग वाले दरवाजे, बेहतर आवाज और उष्मारोधन सुविधा, गार्ड पैनल द्वारा इसे नियंत्रित किया जा सकता है। शोर नहीं सुनाई देगा, गंदगी और रेत व पानी का प्रवेश कोच में नहीं होगा। इसके साथ ही आरामदेह, ऊर्जा दक्षता, सुरुचिपूर्ण डिजाइन है। इलेक्ट्रो न्यूमैटिक एयर ब्रेक है।



Read More: बापू की प्रतिमा से की छेड़छाड़, सोशल मीडिया पर फोटो वायरल



आग का तत्काल पता चलेगा

इसमें आग और धुआं का पता लगाने के यंत्र। इसके साथ ही तत्काल आग बुझाने के लिए शमन प्रणाली भी है। सुरक्षा के लिए सीसीटीवी कैमरे हैं। जीपीएस आधारित यात्री सूचना डिस्प्ले प्रणाली डिजिटल गंतव्य बोर्ड पर आगामी स्टेशन की जानकारी मिल जाएगा। समेकित ब्रेल डिस्प्ले, कम ऊर्जा खपत वाली एलईडी लाइट्स भी है।



Read More: सात महीने बाद भी नहीं मिल पाता शादी का सरकारी तोहफा



हर यात्री को टीवी

प्रत्येक यात्री के लिए टच कंट्रोल युक्त एलईडी टीवी, रिकॉर्ड की गई सामग्री के साथ लाइव टीवी के रूप में अपग्रेड किया जा सकता है। इसके अलावा यूएसबी चार्जिंग सुविधा, पत्रिकाएं, चाय और कॉफी वेंडिंग मशीनें, स्नैक टेबल, स्थानीय व्यंजन और सेलिब्रिटी शेफ मेन्यू की सुविधा भी दी गई है। 

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned