डकैती के 33 साल पुराने मामले में आरोपित को 7 साल की सजा

shailendra tiwari

Publish: Dec, 01 2016 08:52:00 (IST)

Kota, Rajasthan, India
डकैती के 33 साल पुराने मामले में आरोपित को 7 साल की सजा

4 माह पहले गिरफ्तार किया था

कोटा. खातौली थाना क्षेत्र स्थित एक मकान में घुसकर डकैती डालने व फायर कर तीन जनों को घायल करने के 33 साल पुराने मामले में एडीजे क्रम 5 अदालत ने गुरुवार को एक आरोपित को 7 साल कैद व 60 हजार रुपए जुर्माने की सजा सुनाई। आरोपित 4 माह पहले ही गिरफ्तार हुआ था।


फूसोद निवासी ओम प्रकाश ने 4 दिसम्बर 1983 को खातौली थाने में रिपोर्ट दी थी। इसमें कहा था कि 3 दिसम्बर की रात 11 बजे करीब वह घर पर सो रहा था तभी मध्य प्रदेश के भिंड स्थित पवाई निवासी अमरसिंह अपने 5-6 साथियों के साथ हथियार लेकर उसके घर में घुसे। 


शोर सुनकर वह उठा तो उन्होंने 12 बोर की बंदूक से उस पर फायर कर दिया। उसकी पत्नी व पड़ोसी हरिशंकर पर भी फायर किए। उन तीनों के छर्रे लगे। 


लोग एकत्र हुए तो सभी डकैत वहां से भाग गए। इस मामले में पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर अनुसंधान किया। आरोपित अमर सिंह के फरार होने पर उसके स्थायी गिरफ्तारी वारंट जारी किए थे। पुलिस ने आरोपित को इसी वर्ष 22 अगस्त को गिरफ्तार किया था। 


एडीजे क्रम 5 अदालत ने डकैती के प्रयास का दोषी पाए जाने पर आरोपित अमर सिंह को 7 साल की सजा व 60 हजार रुपए जुर्माने से दंडित किया। जबकि इस मामले के अन्य आरोपितों बजरंग लाल, कैलाश, गौरीशंकर, लाला, नरेन्द्र व भरोसी का पूर्व में फेसला हो चुका है।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned