आखिरकार अन्नदाता को मिल गई राहत

Dharmendra gaur

Publish: Jun, 20 2017 12:00:00 (IST)

Nagaur, Rajasthan, India
आखिरकार अन्नदाता को मिल गई राहत

समझौता योजनावधि ३० जून तक बढ़ाई, ऋणी किसानों को अब तक ३८ लाख २५ हजार मिल चुकी है राहत


नागौर. कर्ज में फंसे किसानों के लिए खुशखबरी है। सहकारी भूमि विकास बैंक की ओर से समझौता योजना के तहत ऋण की राशि ब्याज की छूट के साथ जमा करने की अवधि ३० जून तक बढ़ा दी गई है। योजना के तहत अवधिपार ब्याज में अब तक  २२७ काश्तकार लाभान्वित हो चुके हैं। इन्हें   ३८ लाख २५ हजार राशि की राहत छूट के तहत मिल
चुकी है।
बैंक के अधिकारियों का कहना है कि काश्तकारों की समस्या को देखते हुए उच्च स्तर पर  योजनावधि बढ़ाने का निर्णय लिया गया। ताकी ऋणी काश्तकार सहजता से राशि जमा कर सकें। जिले भर के करीब एक हजार से अधिक अवधिपार ऋणी काश्तकारों के लिए विभाग की ओर से समझौता योजना में  राहत दिए जाने के लिए अंतत: योजनावधि अब बढ़ गई है। विभागीय अधिकारियों का कहना है कि ए श्रेणी में ४३३, बी श्रेणी में २७५ एवं सी श्रेणी में ३११ ऋणी काश्तकारों को चिह्नित किया गया है। इसमें अब तक ए श्रेणी में १०३ किसानों को १४.३५ लाख, बी श्रेणी में ६४ किसानों को ११.९७ लाख एवं सी श्रेणी में ६० काश्तकारों को ११.९३ लाख ब्याज छूट की राहत योजना के तहत दी जा चुकी है।

अब नया नहीं है तो कोई बात नहीं, पुराना चलाएगा आपका काम


अधिकारियों का कहना है कि ऋणी काश्तकारों को योजना का लाभ उठाने एवं इसकी विशेषताएं बताने के लिए अधिकारियों की टीम ग्राम पंचायतों में ऋणी काश्तकारों से सीधा संपर्क कर उन्हें इसके बारे में बताने में लगी हुई है। अधिकारियों का कहना है कई बार  जानकारी के अभाव में काश्तकार योजना का लाभ नहीं उठा पाते। इसकी वजह से बाद में उन्हें दिक्कतें होती है। इसको ध्यान में रखते हुए ग्राम पंचायतवार प्रत्येक किसान से अधिकारी खुद ही व्यक्तिगत स्तर पर मुलाकात कर उन्हें योजना से जुड़े सभी पहलुओं को समझाने में जुटे हुए हैं।

इनका कहना है
ग्राम पंचायतवार अधिकारियों की टीम खुद ही ऋणी काश्तकारों से सीधा संपर्क कर उन्हें  योजना का लाभ उठाने के लिए प्रेरित करने में लगे हुए हैं। इससे किसानों को ही फायदा मिलेगा।
जयपाल गोदारा, सचिव सहकारी भूमि विकास बैंक

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned