भक्ति संध्या में उमड़े लोग

rajesh dixit

Publish: Jun, 17 2017 07:46:00 (IST)

Pratapgarh, Rajasthan, India
भक्ति संध्या में उमड़े लोग

भक्ति की है रात, भेरुजी आज थाने आणो है, रुमक-झुमक पधारो म्हारा भेरूजी, ढोल ताशा बाजा करें भेरुजी का भोपा नाच्या करें, कोयलिया कुकू करें....।

छोटीसादड़ी भक्ति की है रात, भेरुजी आज थाने आणो है, रुमक-झुमक पधारो म्हारा भेरूजी, ढोल ताशा बाजा करें  भेरुजी का भोपा नाच्या करें, कोयलिया कुकू करें....। जैसे कई भजनों पर श्रोता रातभर भजन गंगा में डुबकी लगाते रहे। अवसर था नगर में नाकोड़ा युवा मंच के तत्वाधान में आयोजित एक शाम नाकोड़ा भैरव दादा के नाम भक्ति संध्या का। बालोतरा से आए भजन गायक वैभव बाघमार एवं उनकी टीम द्वारा एक से बढ़कर एक आकर्षक एंव सुंदर भजनों की प्रस्तुतियों से  नगरवासियों को नाचने पर मजबूर कर दिया।
वहीं इस महोत्सव में शुभ निश्रा पीयूष विजयजी महाराज की रही। भजन संध्या में पीयूष विजय महाराज ने भी अपने  सुरीले कंठ से श्रेष्ठतम स्तवन व भजनों की प्रस्तुति दी। साथी भक्ति संध्या में मुख्य अतिथि यूडीएच मंत्री श्रीचंद कृपलानी व विशिष्ठ अतिथि सांसद चंद्रप्रकाश जोशी, पूर्व विधायक अशोक नवलखा, पूर्व प्रधान मनोहरलाल आंजना, पालिका उपाध्यक्ष रामचंद्र माली पुलिस उपाधीक्षक ओम प्रकाश उपाध्याय, थाना अधिकारी प्रदीप बिट्टू, दिनेश कासमा, कांतिलाल दक, सुमित चपलोत पारस बंडी सहित सैकड़ों श्रोताओं ने देर रात तक भजन संध्या का आनन्द लिया।
निकला भव्य वरघोड़ा
नगर में भक्ति संध्या से पूर्व भव्य वरघोड़ा निकाला गया। वरघोड़े में  पीयूष विजयजी महाराज एवं प्रीत विजयजी महाराज की रही। वरघोड़े में सबसे आगे घुड़सवार धार्मिक पताका एवं ध्वजा  लिए  चल रहे थे। उनके पीछे बैंड बाजों की मधुर स्वर लहरियां बिखर रही थी।  पीछे युवा ढोल की थाप पर नृत्य करते हुए चल रहे थे। साथ ही युवाओं के साथ समाज के वरिष्ठ जन चल रहे थे। महिला एवं युवतियां भी ढोल एवं डिजे की थाप पर नृत्य करते हुए आगे बढ़ रही थी। अंत में खुली जीप में नाकोडा भैरव की भव्य प्रतिमा सुशोभित थी। जुलूस में युवा वर्ग सफेद परिधान व महिलाएं केसरिया वस्त्र धारण किए हुए थे। नगर में वरघोड़े का जगह-जगह नगरवासियों ने अक्षत व पुष्प वर्षा कर स्वागत किया। वरघोड़ा भजन संध्या स्थल शामजी की बगीची में जाकर समाप्त हुआ।
 

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned