दमकल नहीं होने से आग की भेंट चढ़ा अनाज और चारा

Jaipur, Rajasthan, India
दमकल नहीं होने से आग की भेंट चढ़ा अनाज और चारा

गांव सिंघावली की जाटव बस्ती के निकट लगी आग की सूचना दमकल विभाग को देने के बावजूद दमकलकर्मी समय नहीं पहुंचे। जिससे आग ने अपना रौद्र रूप दिखाते हुए ईंधन, बिटौरे सबकुछ राख कर दिया। दमकल विभाग की लापरवाही पर ग्राामीणों की गुस्सा सातवें आसमान पर पहुंच गया।

गांव सिंघावली की जाटव बस्ती के निकट रखे दर्जनों ईंधन के बिटौरों के साथ चारा व अनाज जल गया। करीब दो घंटे बाद भरतपुर से पहुंची दमकल को ग्रामीणों ने रोष जताते वापस भेज दिया। शनिवार दोपहर करीब एक बजे सिंघावली स्थित जाटव बस्ती के निकट रखे ईंधन, चारे के बिटौरे के साथ एक व्यक्ति के गैतवाड़े में रखा कटर के पहिए जल गए।

जानकारी मिलते ही ग्रामीणों ने अपने ट्यबवैलों को चालू कर आग बुझाने का प्रयास किया, लेकिन तेज हवा के कारण र्ईंधन जलकर राख हो गया। सूचना पर तहसीलदार रामनिवास अग्रवाल व एएसआई ताराचन्द मय जाब्ते के मौके पर पहुंचे।

आग से नत्थासिंह, अचलसिंह, सुगनसिंह, सोवरन सिंह, उदयसिंह, बदनसिंह, झम्मनसिंह, रामहेत, भगवत, बलवीर, बाबूलाल, राकेश, भगवानसिंह जाटव के ईधन के बिटौरे, चारा व अनाज जल गया। राजकुमार ठाकुर के गेंतवाडें में रखी ट्रॉली व कटर के पहियों के साथ ईधन चारा जला।


तहसीलदार ने पटवारी कृष्णकांत को नुकसान का आंकलन कर रिपोर्ट बनाने के आदेश दिए। भरतपुर स्थित दमकल विभाग को दी गई सूचना के दो घंटे बाद दमकल पहुंचने पर ग्रामीणों ने विरोध जताते उसे वापस भेज दिया। ग्रामीणों ने प्रशासन से मांग की कि उपखंड मुख्यालय पर दमकल उपलब्ध कराई जाए।

डीजे पर गाना बजते ही हुआ विवाद, पुलिस के फूले हाथ-पैर


आधा दर्जन से अधिक गुप्पा व ईंधन जला

भुसावर कस्बा के कुण्डा की पार पर बनीं पशु चारे की आधा दर्जन से अधिक गुप्पा व पेड़ जलकर राख हो गए। सूचना पर पहुंची दमकल ने दो घंटे की मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया। इससे शनिवार सुबह नलों में पानी नहीं आया।

कुण्डा के निकट लोगों ने पशुओं का चारा रखने के लिए कच्चे गुप्पा बनाकर उनमें चारा भर रखा था। शुक्रवार रात साढ़े बारह बजे अचानक इनमें आाग लग जाने से पशुचारे के साथ इसके आसपास रखा ईंधन व बरगद का पेड़ जल गया। पुलिस की सूचना पर भरतपुर से दो घंटा बाद पहुंची दमकल ने आग बुझाई।

बारात आई फेरे हुए, पर पिता ने बेटियों को भेजने से किया इनकार


क्षेत्र में नहीं हुई जलापूर्ति

कनिष्ठ अभियन्ता जगदीश मीणा ने बताया कि बरगद के पेड़ में आग लगने से उसकी चपेट में 11केवी विद्युत लाइन का तार टूट जाने के कारण आधा कस्बा अंधेरे में रहा। इससे जलापूर्ति भी प्रभावित रही।

फिर उठी दमकल की मांग

दमकल की मांग एक बार फिर उस समय उठी जब वैर की दमकल खराब होने की लोगों को जानकारी मिली। उनका कहना है कि भरतपुर से आने में दमकल को एक से दो घंटा के मध्य लगता है।

दीवारों पर उकेर रहे घना की खूबसूरती


आतिशबाजी की चिंगारी से लगी आग

नदबई कस्बे में कुम्हेर मार्ग पर चुंगी समीप शुक्रवार देर रात शादी समारोह में हो रही आतिशबाजी के चलते ट्रैक्टर-ट्रॉली में रखे पूड़ा में आग लग गई।बारातियों ने मशक्कत कर ट्रॉली को अलग कर आग बुझाने की कोशिश की, लेकिन आग इतनी तेज थी कि कुछ पल में ही पूड़ा जलकर स्वाहा हो गए।

जिस ट्रक में जा रही थी 38 लाख की शराब, उसका सब कुछ फर्जी


हालांकि इस दौरान कोई हादसा नहीं हो सका। बाद में पुलिस ने मौके पर जांच पड़ताल की। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार खेडिया जगा निवासी केहरी पुत्र गिरधर ङ्क्षसह अपने ट्रैक्टर-ट्रॉली में गांव बरबारा से फूस के पूड़ा लेकर आ रहा। इसी बीच आग लगने से जलकर बर्बाद हो गए।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned