सबसे बड़े अस्पताल SMS पर भी चला निगम का डंडा, 380 रिपोर्ट नहीं भेजी गईं थी, देना होगा जुर्माना

Ajay Sharma

Publish: Dec, 02 2016 01:29:00 (IST)

Jaipur, Rajasthan, India
सबसे बड़े अस्पताल SMS पर भी चला निगम का डंडा, 380 रिपोर्ट नहीं भेजी गईं थी, देना होगा जुर्माना

जयपुर में नगर निगम द्वारा अपने कर्मियों को हटा लेने के पश्चात् एसएमएस में मृत्यु प्रमाण पत्र का काम अटक गया है। करीब 380 रिपोर्ट नहीं भेजी गईं, जिससे किसी के मृत्यु प्रमाण पत्र जारी करने का काम नहीं हो पा रहा...

राजस्थान के सबसे बड़े अस्पताल में लापरवाही भी बड़ी सामने आई है। नगर निगम के मुताबिक, यहां से मृत्यु प्रमाण पत्र की 300 से ज्यादा रिपोर्ट्स अटका रखी हैं, जिससे लोगों को मृत्यु प्रमाण पत्र जारी नहीं हो पा रहे। अस्पताल ने करीब महीने से मृत्यु प्रमाण पत्र आवेदनों की सूचना रिपोर्ट नगर निगम को नहीं भेजी।



नगर निगम ने लगाया जुर्माना
राजधानी में सवाई मानसिंह अस्पताल की इस लापरवाही पर नगर निगम प्रशासन ने जुर्माना लगाया है। अधिकारियों के अनुसार, एसएमएस अस्पताल ने 21 दिन से मृत्यु प्रमाण पत्र आवेदनों की ताजा सूचना रिपोर्ट नगर निगम को नहीं भेजी। जबकि, इससे पहले की भी 200 और रिपोट्र्स यहां अटकी हुई हैं। इस कारण जुर्माना लगाया गया है। कुल मिलाकर मृत्यु प्रमाण पत्र की 380 रिपोर्ट नगर निगम के पास नहीं पहुंची है। इससे लोगों को मृत्यु प्रमाण पत्र जारी करने में देरी हो रही है।



इसलिए बिगड़ी व्यवस्था
कुछ अर्सा पहले तक नगर निगम के कर्मचारी ही एसएमएस में मृत्यु प्रमाण पत्र के लिए आवेदन फार्म भरते थे और रिकॉर्ड संधारित करते थे। इसके बाद नगर निगम प्रमाण पत्र जारी करता था। लेकिन महीनेभर पहले नगर निगम ने वहां से अपने कर्मचारी हटा लिए, इससे एसएमएस अस्पताल में मृत्यु प्रमाण पत्र का काम अटक गया है। करीब 380 रिपोर्ट नहीं भेजी गई हैं, इसके कारण मृत्यु प्रमाण पत्र जारी करने का काम अटक रहा है।



तय है प्रमाण पत्र का देने समय
लोक सेवा गारंटी अधिनियम के तहत नगर निगम को तय समय सीमा में मृत्यु प्रमाण पत्र जारी करना होता है। जानकारी के अनुसार आवेदन के तीन दिन में प्रमाण पत्र जारी करना होता है, लेकिन रिपोर्ट नहीं मिलने से निगम का काम भी अटक गया है। 21 दिन तक निगम में आवेदन नहीं करने पर लोगों को इसके लिए शुल्क चुकाना पड़ता है और इससे ज्यादा देरी होने पर मजिस्ट्रेट कार्यालय जाकर प्रमाण पत्र बनवाना पडता है।



हिसाब से लगेगा जुर्माना
एसएमएस अस्पताल ने मृत्यु प्रमाण पत्र आवेदनों की रिपोर्ट समय पर नहीं भेजी है, इसलिए प्रति रिपोर्ट के हिसाब से जुर्माना लगाया गया है।
- प्रदीप पारीक, जन्म मृत्यु पंजीकरण अधिकारी, नगर निगम।
-----



Read: बोर्ड के 2 साल में नगर निगम ने क्या किया..' महापौर ने दिए सवालों के कुछ ऐसे जवाब


जहां लापरवाही से मरीं सैकड़ों गायें, निगम के भाजपा बोर्ड ने उसे ही उपलब्धि में शामिल कर लिया

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned