पन्द्रह दिन की ट्रेनिंग में सिखाया जन्म पत्री बनाना, खांड विप्र समाज का अभिनव प्रयोग

Rajsamand, Rajasthan, India
पन्द्रह दिन की ट्रेनिंग में सिखाया जन्म पत्री बनाना, खांड विप्र समाज का अभिनव प्रयोग

खाण्डल विप्र ,राजसमंद द्वारा आयोजित ज्योतिष ज्ञान शिविर में 19 संभागियों ने 15 दिन में जन्मपत्री बनाना सीख लिया। ज्योतिष की जटिल गणित एवं फलित के साथ-साथ कुण्डली के प्रतिफलों का अध्ययन करवाया गया।

राजसमंद. खाण्डल विप्र ,राजसमंद द्वारा आयोजित ज्योतिष ज्ञान शिविर का समापन संत मौनी बाबा रोकडिय़ा हनुमानजी के आतिथ्य में हुआ। अध्यक्षता योगाचार्य डॉ. रामेश्वरलाल ने की। शिविर प्रभारी कैलाश खण्डेलवाल ने बताया कि  शिविर में ज्योतिष की जटिल गणित एवं फलित के साथ-साथ कुण्डली के प्रतिफलों का अध्ययन करवाया गया। 19 संभागियों ने 15 दिन में जन्मपत्री बनाना सीख लिया। यह समस्त शिक्षण आचार्य एवं ज्योतिर्विद भरत खण्डेलवाल के मार्गदर्शन में हुआ।


READ MORE : जेके फैक्ट्री के कार्मिक बोले ये गिरफ्तार नहीं हुए तो होगा खून खराबा


इस अवसर पर प्रमुख वक्ता वास्तुविद  विद्याधर  ने ज्योतिष विज्ञान पर अपने विचार व्यक्त किए। साथ ही योगाचार्य ने निपुण्यात् विजयो ध्रुवम के अनुसार प्रत्येक क्षेत्र में कार्य करने पर अपार सफलता प्राप्त होगी। 


READ MORE : दिन में मजदूरी नहीं तो शाम को क्या खाएंगे ? : यही तो सवाल हर तंगहाल बच्चे को रूला रहा


मुख्य अतिथि मौनी बाबा ने ज्योतिष, व्याकरण की महत्ता पर प्रकाश डाला।  भरत खण्डेलवाल ने कहा कि कि मंैने गुरु ऋण से उऋण हाने का प्रयास किया है। ईश्वर मुझे सफलता दे।  संचालन कैलाश खण्डेलवाल ने किया।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned