टिटहरी ने छत और नाले में दिए अंडे : बारिश के संकेत पर बन गए असमंजस के हालात

Rajsamand, Rajasthan, India
टिटहरी ने छत और नाले में दिए अंडे : बारिश के संकेत पर बन गए असमंजस के हालात

लोगों की मान्यता है कि अगर टिटहरी ऊपरी हिस्से पर अंडे देती है, तो उस वर्ष अच्छी बारिश का संकेत है और खेत या नाले में टिटहरी अंडे देती है, तो समझ लो उस वर्ष बारिश नहीं होगी या बहुत कम होगी। यह मान्यता इस बार झुठला गई। जानने के लिए पढ़े विस्तृत खबर...

राज्यावास पंचायत के नाथामगरी तेजपुरा गांव में एक रिहायशी मकान की छत पर एवं दूसरी ओर पीपली अहीरान गांव में बनास नदी के पेटे में दिए गए टिटहरी के अण्डों ने ग्रामीणों को अच्छा-खासा असमंजस में डाल दिया है कि अब वे भारी वर्षा का अनुमान लगाएं या कम बारिश का।


READ MORE : रास्ते में प्रसव के बाद प्रसूता को अस्पताल में नहीं किया था भर्ती : सच जानने पहुंचे ब्लॉक चिकित्सा अधिकारी



राजसमंद जिले के नाथामगरी, राज्यावास में मोतीबाई तेली के मकान की छत पर टिटहरी ने 20 दिन पूर्व 2 अंडे दिए। इसके बाद 5 दिन पूर्व 2 अंडे और देने से 4 अंडे हो गए। मकान की छत पर इतनी ऊंचाई पर अण्डे देने से ग्रामीणों में तेज एवं अच्छी बरसात होने की उम्मीद बंध रही है। ग्रामीणों ने बताया कि इतनी ऊंचाई पर चारों अण्डे के कोने जमीन की सतह पर होने से अच्छी बारिश होने के प्रमाण दिख रहे हैं। इधर पीपली अहिरान गांव की बनास नदी के बीच में भी टिटहरी ने दो जगह 2-2 अंडे दे रखे हैं। इन अण्डों को देखकर ग्रामीणों का कम बारिश होने का अनुमान है, जिसने चिंता बढ़ा दी है। उल्लेखनीय है कि टिटहरी द्वारा ऊंचाई पर अण्डे दिए जाने पर भारी वर्षा व जमीन पर अण्डे दिए जाने से कम बारिश का अनुमान लगाया जाता है। 

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned