सीआईडी टीम ने खाटू में ग्रामीणों की जानी समस्याएं

dinesh rathore

Publish: Jun, 16 2017 02:39:00 (IST)

Sikar, Rajasthan, India
सीआईडी टीम ने खाटू में ग्रामीणों की जानी समस्याएं

राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग के आदेश पर गुरुवार को केन्द्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीआईडी) की टीम ने खाटूश्यामजी पहुंचकर मेले के दौरान श्याम भक्तों को होने वाली परेशानियों को लेकर ग्रामीणों एवं श्याम भक्तों के बयान लिए है।

राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग के आदेश पर गुरुवार को केन्द्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीआईडी) की टीम ने खाटूश्यामजी पहुंचकर मेले के दौरान श्याम भक्तों को होने वाली परेशानियों को लेकर ग्रामीणों एवं श्याम भक्तों के बयान लिए है। इस दौरान ग्रामीणों ने मेले के दौरान होने वाली समस्याओं और परेशानियों से टीम को अवगत करवाया। 

गौरतलब है कि फाल्गुन मेले के दौरान श्रीमाधोपुर के एडवोकेट हरीश स्वामी व एक अन्य व्यक्ति ने मेले में खाटूश्यामजी के ग्रामीणों और श्याम भक्तों को होने वाली परेशानियों और दुव्र्यवहार की घटनाओं को लेकर राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग के समक्ष याचिका दायर की थी। इसके बाद राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग ने सीआईडी टीम को खाटूश्यामजी में जाकर मामले की जांचकर रिपोर्ट पेश करने के आदेश दिए थे। सीआईडी टीम इस संबंध में लोगों से पूछताछ के लिए खाटूश्यामजी पहुंची है।

मेले में कैदी बनकर रह जाते हैं ग्रामीण

टीम को दिए बयानों में वार्ड दस के नीरज खरतला ने बताया कि मेले के दौरान आने वाले श्रद्धालुओं की भीड़ को देखते हुए मेले के पहले, मेले के दौरान व मेले के बाद तीन तरह की अलग अलग व्यवस्थाएं होनी चाहिए, लेकिन मेला प्राधिकरण व प्रशासन में समन्वय नहीं होने से मेले में आने वाले श्रद्धालुओं और स्थानीय ग्रामीणों को कई तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ता है। उन्होंने बताया कि मेले के दौरान स्थानीय लोगों पर प्रशासन व पुलिस की ओर से प्रतिबंध लगा दिए जाते हैं, जिससे वे लोग मेला अवधि के दौरान कैद से होकर रह जाते हैं।

अवैध जल दोहन पर लगे रोक

वार्ड तीन के रमजान खान ने मेले के दौरान धर्मशालाओं में होने वाले अवैध जल दोहन पर रोक लगाने की बात कही। साथ ही धर्मशाला संचालकों पर शादी विवाहों और अन्य उत्सवों के दौरान ग्रामीणों और श्याम भक्तों पर मोटी रकम वसूलने का आरोप लगाकर शिकायत दर्ज करवाई। 

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned